आईपीएल12

गांगुली ने कहा, "भारत को विश्व कप में पंत की कमी खलेगी।" गांगुली से जब पूछा गया कि क्या पंत को चोटिल केदार जाधव के स्थान पर टीम में शामिल किया जाना चाहिए? इस पर गांगुली ने कहा, "आप इस तरह से नहीं कह सकते। मुझे उम्मीद है कि केदार जल्दी फिट होंगे, लेकिन फिर भी पंत की कमी खलेगी।"

पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने मैच के बाद धोनी से काफी लम्बी बातचीत की। इस दौरान धोनी ने मैच को लेकर कई अहम मुद्दों पर चर्चा की। इसी दौरान धोनी ने कहा कि दोनों टीमों ने कई सारी गलतियां कीं और जिस टीम ने एक गलती कम की, उसी की जीत हुई।

अंतिम ओवर में पोलार्ड ने अम्पायर नितिन मेनन द्वारा दो गेंदों पर वाइड न दिए जाने को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। अम्पायर के फैसले का मजाक उड़ाने के मकसद से वह ड्वायन ब्रावो द्वारा डाले जा रहे ओवर के दौरान स्टम्प्स से काफी दूर वाइड लाइन के पास जाकर स्टांस लिया था।

वार्नर ने इस सीजन 12 मैच खेले और 69.20 की औसत से 692 रन बनाए। इसमें एक शतक और आठ अर्धशतक शामिल हैं। वार्नर ने इस सीजन तीन मैच कम खेले क्योंकि विश्व कप टीम का हिस्सा बनने के लिए उन्हें बीच में से स्वदेश लौटना पड़ा।

चेन्नई सुपर किंग्स के लेग स्पिनर इमरान ताहिर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे और इसी कारण उन्हें पर्पल कैप से नवाजा गया। आईपीएल में एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज को पर्पल कैप दी जाती है।

मुंबई इंडियंस ने रविवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए फाइनल में अपनी चिर प्रतिद्वंद्वी चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरी ओवर में बाजी पलट एक रन से हरा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण का खिताब अपने नाम कर लिया।

धोनी ने दिल्ली के खिलाफ जीत और टीम के फाइनल तक के पहुंचने के सफर का श्रेय अपने गेंदबाजों को दिया है। चेन्नई ने दिल्ली को 20 ओवरों में नौ विकेट पर 147 रनों से आगे नहीं जाने दिया और इस आसान से लक्ष्य को 19 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया।

अय्यर ने बल्लेबाजों पर गुस्सा जताते हुए कहा, "किसी भी बल्लेबाज ने टीम को संभालने और अंत तक खड़े रहने की पहल नहीं की। साझेदारियां भी नहीं हुईं, यह हमारे लिए निराशाजनक है, लेकिन सीखने लायक चीज है।"

डॉ. वाई.एस. राजशेखर रेड्डी एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेले गए इस मैच में चेन्नई के लिए फाफ डु प्लेसिस और शेन वाटसन ने 50-50 रन बनाए। डु प्लेसिस ने 39 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का मारा।

आईपीएल के इतिहास की सबसे सफल टीमों में गिनी जाने वाली चेन्नई को क्वालीफायर-1 में तीन बार की विजेता मुंबई इंडियंस ने मात दी थी और फाइनल में प्रवेश किया। उस हार से हालांकि चेन्नई बाहर नहीं हुई। उसे क्वालीफायर-2 में फाइनल में जाने का एक और मौका मिल रहा है।