आजम खान

राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नंद गोपाल नंदी(Nand Gopal Nandi) ने पीएम जन कल्याण योजना के तहत अल्पसंख्यक विभाग में कराए गए कार्यों की जांच एसआईटी(SIT) से कराने के आदेश दे दिए हैं।

गौरतलब है कि मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट(Allahabad High court) ने याचिका पर सुनवाई करते हुए गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान(Kafeel Khan) को रिहा करने का आदेश दिया था।

बताते चले कि लोकसभा चुनाव में रामपुर संसदीय सीट से भाजपा की प्रत्याशी जयाप्रदा थीं। उनके खिलाफ स्वार कोतवाली में आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मामले की सुनवाई एडीजे-6 की कोर्ट में चल रही है।

आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। जल निगम भर्ती घोटाले की जांच में आजम दोषी करार दिए गए हैं।योगी सरकार ने आजम की अगुवाई में सपा सरकार में हुई JE व क्लर्क की भर्तियां रद्द कर दी हैं।

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के दिन अच्छे नही चल रहे। उत्तर प्रदेश विधानसभा सचिवालय ने उनकी विधायकी खत्म करने का आदेश जारी कर दिया है।

प्रयागराज स्थित रेवेन्यू बोर्ड में सरकारी वकील दीपक सक्सेना ने कहा, उत्तर प्रदेश जमींदारी उन्मूलन और भूमि सुधार अधिनियम के तहत छोटे दलित भूस्वामी अपनी जमीन गैर-अनुसूचित जाति के व्यक्ति के नाम स्थानांतरित नहीं कर सकते हैं

यूपी के रामपुर से लोकसभा सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अब्दुल्ला आजम की विधायकी रदद् करने का आदेश दिया था जिसके खिलाफ अब्दुल्ला ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, अब SC ने भी इस आदेश पर रोक लगाने से मना कर दिया है।

इस सीट पर भाजपा और समाजवादी पार्टी के बीच कड़ी टक्कर हुई थी। अब भाजपा इस सीट पर मिली शिकस्त का हिसाब बराबर राज्यसभा के लिए होने वाले उपचुनाव में करेगी और यूपी विधानसभा में मजबूत संख्या बल के आधार पर पार्टी आसानी से सपा को हरा देगी।

प्रशासन ने रामपुर के अलग-अलग जगह से छह फर्जी मतदान एजेंटों को हिरासत में ले लिया है। इसके साथ ही रामपुर के रज़ा डिग्री कॉलेज से भी दो फर्जी एजेंट पकड़े गए हैं।

रामपुर के जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने आईएएनएस को बताया, "अब तक जो जानकारी मिली है एक निर्दलीय उम्मीदवार जावेद के सारे मतदान एजेंट फर्जी हैं। इनमें से 20 एजेंट को गिरफ्तार किया गया है।