आतंकवाद

तुर्की ने देश के पूर्वी हिस्से में बड़े पैमाने पर आतंकवाद रोधी अभियान शुरू किया है। तुर्की के आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने संयुक्त राष्ट्र और शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के बीच आतंकवाद-रोधी साझेदारी की सराहना की है। शांति, सुरक्षा और स्थिरता पर यूएन-एससीओ सहयोग पर आयोजित एक कार्यक्रम में मंगलवार को गुटेरस ने एससीओ को क्षेत्रीय कूटनीति, बहुराष्ट्रवाद और यूरेशिया में सबसे ज्यादा जरूरी शांति और सुरक्षा मुद्दों के संबंध में सहयोग बढ़ाने में प्रमुख भूमिका निभाने वाला बताते हुए उसकी प्रशंसा की।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने आतंकवाद पर अपनी सालाना रिपोर्ट में यह बात कही है कि वहां अब भी आतंकियों की भर्ती हो रही है और वे फंडिंग जुटा रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों पर रोक लगाने में असफल रहा है।

अगले चार दिनों तक 7 देशों के साथ-साथ हिंदुस्तान के अलग-अलग राज्यों की डांस परफॉर्मेंस मध्य प्रदेश के ग्वालियर में देखने को मिलेगी। बता दें, डांस फेस्टिवल के तहत गुरुवार को ग्वालियर के कटोराताल से डांस कार्निवाल निकाला गया, जिसमें इजराइल, स्पेन, इटली, किर्गिस्तान, रशिया और श्रीलंका के कलाकारों के साथ हिंदुस्तान की 300 से ज्यादा टीमें शामिल हुईं।

हालांकि, पाकिस्तान का सीमापार आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने वाले समूहों को समर्थन देना इस वार्ता की राह में मुख्य बाधा है।

भारत के रक्षा विशेषक्ष जीडी बख्शी ने न्यूजरूम पोस्ट के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में उन्होंने पाकिस्तान, टुकड़े-टुकड़े गैंग और साथ ही राफेल जैसे अहम मुद्दों पर बातचीत की।

दरअसल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ने रूस के एक अंग्रेजी न्‍यूज चैनल RT को दिए इंटरव्‍यू में कबूल करते हुए कहा है कि 1980 में अफगानिस्‍तान में रूस (तत्‍कालीन सोवियत संघ) के खिलाफ लड़ने के लिए पाकिस्‍तान ने जेहादियों को तैयार किया। उन्‍हें ट्रेनिंग दी।

खुफिया सूत्रों के मुताबिक मसूद अजहर की दोनों ही किडनी बेकार हो चुकी है। वह अब अपने संगठन को भी संबोधित नहीं कर पा रहा है। बहावलपुर में उसके ठिकाने पर ही आईएसआई ने एक मिनी नर्सिंग होम बना बनवा रखा है।

पाकिस्तान आतंकवाद फैलाने के लिए बड़ी संख्या में घुसपैठियों को भारत भेजने की तैयारी में है। इस खबर के बाद आर्मी चीफ बिपिन रावत खुद कश्मीर घाटी पहुंच गए हैं।

पाकिस्‍तानी सेना ने बलूचिस्‍तान के लोगों के जीवन को नारकीय बना दिया है। पाकिस्‍तान से आजादी की मांग करने वाले हजारों राजनीति कार्यकर्ताओं को बंदी बना लिया गया है।