आप

इसी साल के शुरुआत में आम आदमी पार्टी का साथ छोड़ भाजपा में शामिल होने वाले दो विधायक अनिल बाजपेयी और देवेंद्र सहरावत को दिल्ली विधानसभा के स्पीकर राम निवास गोयल ने आयोग्य करार दे दिया है।

न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति बी.आर. गवई ने सहरावत के वकील से कहा कि अयोग्यता नोटिस पर कार्यवाही के दौरान विधायक विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष अपने मुद्दे उठा सकते हैं। इसके बाद सहरावत के वकील ने याचिका वापस ले ली।

नोटिस गंभीर के उस ट्वीट को लेकर है जिसमें उन्होंने कहा था, "मुझे अरविंद केजरीवाल जैसे मुख्यमंत्री के होने पर शर्म महसूस होती है। आप गंदे मुख्यमंत्री हैं, किसी को आपके गंदे दिमाग को साफ करने के लिए आपके ही झाड़ू (पार्टी चुनाव चिन्ह) की जरूरत है।"

पूर्वी दिल्ली से त्रिकोणीय मुकाबले में गंभीर, आतिशी और कांग्रेस प्रत्याशी अरविंदर सिंह लवली मैदान में हैं। दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होना है। 2014 में भारतीय जनता पार्टी ने सभी सीटों पर जीत दर्ज की थी। 

गम्भीर पर आरोप है कि उन्होंने पूर्वी दिल्ली से ही आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी आतिशी के सम्बोधित करके लिखे गए अश्लील बातों वाले पर्चे बंटवाए हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने भी गौतम गंभीर को घेरने की कोशिश की। उन्होंने ट्वीट में लिखा "कभी नहीं सोचा था कि गंभीर इतने नीचे तक गिर सकते हैं।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि आम आदमी पार्टी ने अपने चुनावी मेनिफेस्टो में जो 70 वादे किए थे और अपने घोषणा पत्र को 70 पॉइंट एक्शन प्लान के रूप में पेश किया था, रिसर्च के दौरान उनका विश्लेषण करने पर पता चला कि उनमें से 67 वादों को पूरा करने में दिल्ली सरकार विफल रही।

दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को आम आदमी पार्टी(आप) के विधायक सोमनाथ भारती के खिलाफ उनकी पत्नी की ओर से घरेलू हिसा के मामले में दायर एफआईआर को खारिज कर दिया है।

केजरीवाल ने कहा, "व्यापारियों ने मुझसे कहा कि वे जीवनभर भाजपा के साथ रहे हैं और हमेशा भाजपा को वोट देते रहे हैं, लेकिन मोदी सरकार ने उनके साथ जो सलूक किया, नोटबंदी और जीएसटी से जिस तरह देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ तोड़ दी, उससे वे नाराज और आहत हैं।"

लोगों से अपील करते हुए केजरीवाल ने कहा कि, पांडे जी को नाचना नहीं आता काम करना आता है, इस बार काम करने वाले को वोट देना, नाचने वाले को वोट मत देना, नाचने वाला कोई काम नहीं आएगा, काम करने वाला काम आएगा।