इजरायल

पूर्वी लद्दाख स्थित गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों में तनाव का माहौल बना हुआ है। बता दें कि भारत और चीन की सेनाओं के बीच 45 साल में पहली बार सीमा पर हिंसक झड़प हुई। जिसके बाद सीमा पर तनाव कापी बढ़ गया है।

इजरायल में कोरोनावायरस महामारी के 23 नए मामले सामने आने के बाद यहां कोविड-19 संक्रमण की चपेट में आए लोगों का आंकड़ा बढ़कर 16 हजार 757 हो गया है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने इस बात की जानकारी दी है।

2019 में डेढ़ महीने तक चले आम चुनाव में थकान भरी कवायद के बाद परिणाम आने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ पहुंचे थे और उन्होंने भगवान शिव का रूद्राभिषेक कर उनकी आराधना की थी।

2019 में आम चुनाव से ठीक पहले देश के लगभग हर मंच पर विपक्षी एकता साफ नजर आ रही थी। इन विपक्षी दलों का सिर्फ और सिर्फ एक मकसद था किसी तरह नरेंद्र मोदी सरकार को सत्ता में दोबारा लौटने से रोकना।

इजरायल के हेल्थ मिनिस्टर यूली एडेलस्टीन और कल्चर मिनिस्टर हिलि ट्रॉपर ने रविवार को अपनी सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि जारी प्रतिबंधों में 14 जून से राहत देते हुए नाटक, फिल्में और शो जनता के लिए फिर से शुरू होंगे।

नरेंद्र मोदी सरकार 1.0 में सियासी ताज सजने तक पार्टी की कमान भले राजनाथ सिंह के हाथ हो लेकिन सरकार गठन के बाद से पार्टी की कमान अमित शाह के मजबूत हाथों में आ गई।

सरकार के गठन के बाद जिस तरह से ताबड़तोड़ फैसले लिए गए उसने एक साल के मोदी सरकार 2.0 के कार्यकाल में नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का ग्राफ और ऊंचा कर दिया।

नई दिल्ली। कोरोना से पूरी दुनिया मे तबाही मची हुई है। अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश की हालत खराब है, सबसे...

भारत के मित्र राष्ट्रों में शामिल इजरायल भी कोरोनावायरस से बुरी तरह प्रभावित है। यहां 10 हजार से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हैं। इनमें से 86 की मौत भी हो चुकी है।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का कोरोनावायरस संक्रमण टेस्ट नेगेटिव आया है। उनके कार्यालय ने इस बात की जानकारी दी।