इमरान खान

UNGA : पीएम मोदी(PM Modi) के संबोधन में आतंक(Terrorism) के मुद्दे छाए रहने की उम्मीद है। पीएम का फोकस कोरोना वायरस(Corona Virus) की महामारी पर भी रह सकता है। महासभा के मंच से संयुक्त राष्ट्र में सुधार की बात भी पीएम मोदी उठा सकते हैं।

Imran Khan in UN : सीमा(LoC) पर अक्सर सीजफायर का उल्लंघन करने वाला पाकिस्तान(Pakistan), अब उल्टा भारत पर ही आरोप लगाने लगा है। संयुक्त राष्ट्र महासभा(United Nation) में इमरान(Imran Khan) ने दावा किया कि, भारत सीजफायर का उल्लंघन कर सीमा पर तनाव पैदा कर रहा है।

Minority In Pakistan: पाकिस्तान(Pakistan) में गैर-मुस्लिम लड़कियों का जबरन अपहरण(Kidnap) के सैंकड़ों मामले सामने आ चुके हैं। यूनाइटेड स्टेट्स कमिशन ऑन इंटरनेशनल रिलिजियस फ्रीडम के डेटा की मानें तो पाकिस्तान में हर साल 1 हजार से ज्यादा (12 से 28 साल के बीच) लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया जाता है।

KulBhushan Jadhav Case : दरअसल पाकिस्तानी मीडिया(Pak Media) की रिपोर्ट्स के मुताबिक पाक विदेश मंत्रालय ने कहा है कि जिसके पास पाकिस्तान की बार का लाइसेंस हो, वही वकील पाकिस्तान(Pakistan) में केस लड़ सकता है।

Imran Khan on Gilgit Baltistan : पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून(The Express Tribune) से अली अमीन(Ali Amin) ने कहा है कि जल्द ही इस क्षेत्र का दौरा प्रधानमंत्री इमरान खान(PM Imran Khan) करेंगे और इसका औपचारिक ऐलान करेंगे।

यह प्रॉजेक्ट बेल्ट ऐंड रोड इनिशिएटिव (Belt and Road Initiative) का हिस्सा है जिसके जरिए यूरोप, एशिया और अफ्रीका के बीच कमर्शल लिंक बनाने का उद्देश्य है। इस प्रॉजेक्ट की मदद से देश में बिजली सस्ती हो सकती है।

एक अधिकारी ने बताया कि योजना को लेकर अभी फाइनल प्लान नहीं बना है इसको लेकर आखिरी रूप दिए जाना अभी बाकी है उदाहरण के लिए टीकों की आपूर्ति के लिए भारत(India) द्वारा तय किए गए किसी भी मंच को लाइसेंसिंग समझौतों का सम्मान करना होगा जो यह तय करेगा कि टीके(Vaccine) को कहां बेचा जा सकता है और कहां नहीं।

तुर्की(Turkey) और भारत(India) के रिश्ते की बात करें तो अक्सर तुर्की ने भारत के खिलाफ पाकिस्तान(Pakistan) का साथ ही दिया है। तुर्की कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का हमेशा से साथ देता आ रहा है।

भारत के पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) मामले में घिरी पाकिस्तान सरकार ने अब एक और नई चाल चली है। दरअसल पाकिस्‍तान (Pakistan) ने कुलभूषण जाधव को भारतीय वकील देने की मांग को खारिज कर दिया है।

दिल्ली(Delhi) और वाशिंगटन में आतंकवाद(Terrorism) विरोधी अधिकारियों के अनुसार इन आतंकियों में से चार ने तुर्की और सूडान जैसे किसी अन्य देश की नागरिकता हासिल की थी।