ईद-उल-फितर

ईद-उल फितर के बाद ईद-उल-अजहा यानी बकरीद मुसलमानों का दूसरा सबसे बड़ा पर्व है। दोनों ही मौके पर ईदगाह जाकर या मस्जिदों में विशेष नमाज अदा की जाती है।

ईद-उल-फितर का त्योहार रमजान के महीने के पूरा होने पर 30 रोजे रखने के बाद चांद देखकर मनाया जाता है। दुनियाभर में मुस्लिम इस त्योहार को पूरे जोश और उल्लास के साथ मनाते हैं।