ईरान

आरोप है कि ट्विटर पर ईरान मूल के एक कैनेडियन लेखक ने हिंदू देवी के खिलाफ अपमानजनक पोस्ट लिखे। इस केस में VHP ने आरोप लगाया कि इस लेखक के खिलाफ ऐसे अपमानजनक पोस्ट लिखने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई।

ईरान(Iran) की परमाणु गतिविधियों पर भी फिर पाबंदी लगेगी। गौरतलब है कि ईरान पर प्रतिबंध लगाने संबंधी प्रस्ताव पर पिछले सप्ताह हुए मतदान में अमेरिका(America) के पक्ष में सिर्फ एक सदस्य ने वोट किया था, रूस और चीन ने इसका विरोध किया जबकि 11 सदस्य अनुपस्थित रहे थे।

अमेरिका(America) की तरफ से बताया गया है कि ईरान(Iran) और वेनेजुएला पर प्रतिबंध लगाए गए हैं, इसलिए इन दोनों देशों पर दबाव बढ़े इसलिए यह कार्रवाई की गई है।

ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्लाह सैय्यद अली खामनेई ने हिंदी भाषा में एक ट्टिटर अकाउंट बनाया है। इस अकाउंट का नाम भी हिंदी में है और इससे हिंदी भाषा में ही ट्वीट किए जा रहे हैं। अभी तक इस अकाउंट से दो ट्वीट किए गए हैं। 

चीन अपनी नापाक हरकतों से अभी भी बाज नहीं आ रहा है। ईरान और चीन के बीच 400 अरब डॉलर की डील का असर नजर आने लगा है। चीन से हाथ मिलाते ही ईरान ने भारत को बड़ा झटका देते हुए चाबहार रेल परियोजना से बाहर कर दिया है।

ईरान में फंसे कुल 687 भारतीयों को लेकर भारतीय नौसेना का पोत आईएनएस जलाश्व बुधवार को यहां तूतीकोरिन में वीओ चिदंबरनार बंदरगाह पहुंचा। एक रक्षा अधिकारी ने यह जानकारी दी।

ईरान ने बगदाद में ड्रोन हमले में एक शीर्ष ईरानी जनरल की मौत को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और दर्जनों अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया है। इसके लिए ईरान ने इंटरपोल से मदद मांगी है।

ईरानी विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने गुरुवार को कहा था कि ईरान को अपमानित करने के लिए अमेरिका को संयुक्त राष्ट्र का दुरुपयोग करने का कोई अधिकार नहीं है।

बीते सप्ताह, ईरान ने अमेरिका के नौसेना के अधिकारी माइकल व्हाइट को रिहा किया था, जो ईरान की जेल में जासूसी के आरोपों में बंद थे। इसकी एवज में अमेरिका ने भी ईरानी वैज्ञानिक माजिद ताहिरी को अमेरिकी जेल से रिहा किया था।

गौरतलब है कि तुर्की, कुवैत और ईरान आदि देशों में फंसे कई भारतीय छात्र उड़ानें बंद होने के कारण स्वदेश नहीं लौट पाए हैं। ऐसे में केंद्र सरकार के 'वंदे भारत मिशन' अभियान के तहत उन्हें वहां से निकालकर उनके गृहनगर भेजा जा रहा है।