उज्जैन

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) में अब श्रद्धालु ज्योतिर्लिंग (Jyotirlinga) को नहीं रगड़ सकेंगे। वहां पर दूध चढ़ाने की अनुमति भी सीमित मात्रा में और कुछ ही लोगों को मिलेगी। उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपना अहम फैसला सुनाया है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के कई जिलों में तेज बारिश (Rain) हुई है। खासकर राजधानी भोपाल (Bhopal) और देश से सबसे साफ शहर इंदौर (Indore) को बारिश ने पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

अयोध्या जाने से पहले बीजेपी नेत्री उमा भारती सोमवार को उज्जैन पहुंची। जहां उन्होंने महाकाल मंदिर में भगवान शिव से आशीर्वाद लिया। बता दें कि यहीं से वो अयोध्या के लिए रवाना होंगी।

तीर्थ नगरी उज्जैन में ज्योतिर्लिंग भगवान श्री महाकालेश्वर मंदिर के प्रांगण में प्रथम तल पर भगवान शिव नागचंद्रेश्वर के स्वरूप में विराजमान है। इनके दर्शन वर्ष में केवल श्रावण मास शुक्ल पक्ष की पचंमी तिथि जिसे नागपंचमी के रूप में मनाया जाता हैं, उसी दिन होते है।

विकास दुबे के मारे जाने पर सरला दुबे ने कहा कि, उनका विकास दुबे से कोई संबंध नहीं हैं। बता दें कि इससे पहले भी सरला दुबे ने मध्य प्रदेश के उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर से उसकी गिरफ्तारी के बाद कहा था कि सरकार जो उचित समझे वो कार्रवाई तय करे।

कानपुर शूटआउट कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को मध्य प्रदेश पुलिस ने यूपी एसटीएफ को सौंप दिया है। बताया जा रहा है कि विकास को लेकर सड़क के रास्ते यूपी एसटीएफ कानपुर के लिए निकल चुकी है।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने सरकार पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि तमाम अपराधिक सांठगांठ का पर्दाफाश होने का इंतजार जनता को है।

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के वरिष्ठ नेता और ग्वालियर-चंबल संभाग के मीडिया प्रभारी के. के. मिश्रा ने उत्तर प्रदेश के हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की गिरफ्तारी से पहले महाकाल थाने के प्रभारी के तबादले पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा है कि यह संयोग है या षड्यंत्र।

सूत्रों की मानें तो गैंगस्‍टर विकास दुबे ने कबूल किया है कि घटना के बाद घर के ठीक बगल में बने कुए के पास पांच पुलिसवालों की लाशों को एक दूसरे के ऊपर रखा गया था।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा, यह तो उत्तरप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए प्रायोजित सरेंडर लग रहा है।