उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि थोड़ी सी जागरूकता और सख्ती से सड़क हादसे रोके जा सकते हैं। पुलिस मात्र चालान काटने को अपना लक्ष्य न बनाए, बल्कि वाहन चालकों को जागरूक करने की भी जिम्मेदारी लें।

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है। प्रतापगढ़ की पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता राजकुमारी रत्ना सिंह अपने समर्थकों के साथ आज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में मंगलवार दोपहर राजकुमारी रत्ना सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।

उत्तर प्रदेश सरकार ने गांधी जयंती पर विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाया था, लेकिन कांग्रेस पार्टी ने इस सत्र का बहिष्कार किया था। पार्टी के सत्र बहिष्कार के बावजूद रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने सत्र में हिस्सा लिया था। अब कांग्रेस अदिति के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर ऊहापोह की स्थित में है।

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में तीर्थ यात्रा पर आए एक परिवार की चार महिलाओं और तीन बच्चों को शुक्रवार तड़के एक तेज रफ्तार बस ने रौंद डाला, जिससे सातों की मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश की राज्यसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार सुधांशु त्रिवेदी निर्विरोध निर्वाचित हुए। विधानसभा के विशेष सचिव बीबी दुबे ने बताया कि बुधवार को नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तारीख थी

बता दें कि वह गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर भी हैं और तमाम पर्वों पर पूजा के लिए खुद मंदिर में मौजूद रहते हैं। सोमवार को भी उन्होंने कन्याओं के पैर धोकर उनका पूजन किया और उन्हें भोज कराया।

बीते सप्ताह उत्तर प्रदेश के विशेष विधानसभा सत्र में भाग लेने के लिए पार्टी के व्हीप को चुनौती देने वाली कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह को आगामी विधानसभा उपचुनावों के लिए कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल किया गया है। 

उत्तर प्रदेश के आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर सोमवार को हसनगंज कोतवाली क्षेत्र में अनियंत्रित कंटेनर ट्रक डिवाइडर से टकराकर नाली में घुस गया। इस बीच पीछे से आई तेज रफ्तार टाटा सफारी कार कंटेनर से टकरा गई। हादसे में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि एक गंभीर रूप से घायल है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन के बाद खाली हुई उनकी राज्यसभा सीट के लिए भाजपा उम्मीदवार सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया।

विपक्षी दलों ने पूरी कार्यवाही का बहिष्कार किया, जिससे विपक्ष का चेहरा बेनकाब हुआ है। मुख्यमंत्री योगी सतत विकास लक्ष्य विजन 2030 के 16 लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए उत्तर प्रदेश विधानमंडल की बुलाई गई विशेष सत्र में लगातार 36 घंटे चली चर्चा के समापन पर गुरुवार देर रात बोल रहे थे।