उत्तर प्रदेश विधानसभा

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ (CM Yogi Adityanath) ने शनिवार को सदन में विपक्षियों पर निशाना साधा और कहा कि रामसेतु (Ram Setu) का विरोध करने वाले रामनाम का जाप करने लगे हैं।

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) विधानसभा में मानसून सत्र के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इशारों ही इशारों में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) पर जोरदार निशाना साधा है।

उत्तर प्रदेश विधान सभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे ने अध्यक्ष के निर्देश पर कंट्रोल रूम के प्रभारी के रूप में विशेष सचिव बृजभूषण दुबे और उनके सहायक के रूप में नरेन्द्र कुमार मिश्र संयुक्त सचिव व अखिलेश कुमार अनुभाग अधिकारी नामित हुए हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध करने वाले लोगों को समाजवादी पार्टी की सरकार आई तो पेंशन देने का काम करेगी।

उत्तर प्रदेश विधानसभा में 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाएगा, जिसके तहत विधानसभा में विशेष सत्र आयोजित किया जाएगा जिसमें संविधान की प्रस्तावना तथा उसमें दिए गए मूल कर्तव्य (अनुच्छेद 51ए) पर विशेष चर्चा की जाएगी।

सचिवालय प्रशासन ने इसे तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है। इसके तहत अब किसी भी अधिकारी, कर्मचारी या अतिथि को पानी का पूरा भरा गिलास नहीं दिया जाएगा। अगर किसी को जरूरत है तो दोबारा मांग सकता है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा में मंगलवार को जमकर बवाल हुआ। यहां राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के विधायकों ने हाथों में पोस्टर लेकर बवाल किया। दावा किया जा रहा है कि विधानसभा के अंदर दोनों पार्टी के विधायक जब वेल में जाकर हंगामा कर रहे थे तो इस वक्त राज्यपाल पर कागज के गोले भी फेंके गए।