उन्नाव रेप कांड

मुआवजे की धनराशि(चेक) उन्नाव के जिला अधिकारी परिवार वालों से मिलकर देंगे। बता दें कि उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को गुरुवार को जिंदा जलाने की कोशिश की गई थी, जिसमें पीड़िता 95 फीसदी तक झुलस गई थी।

मामले के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर को सुनवाई के लिए तिहाड़ जेल से एम्स लाया गया। विशेष न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने यहां ट्रॉमा सेंटर में स्थापित कोर्ट में मामले की सुनवाई की। ट्रॉमा सेंटर में ही पीड़िता भर्ती है।

लखनऊ स्थित ट्रामा सेंटर के बाहर मंगलवार सुबह से धरने पर बैठे उन्नाव दुष्कर्म कांड की पीड़िता के परिजनों ने पीड़िता के चाचा महेश सिंह को एक दिन की पैरोल मिलने के बाद धरना समाप्त कर दिया है। महेश सिंह को रविवार को दुर्घटना में मारे गए अपने दो रिश्तेदारों का अंतिम संस्कार करने के लिए एक दिन की पैरोल दी गई है।

दरअसल  प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में एफआईआर की कॉपी लगा दी जिसमें रेप पीड़िता का नाम साफ दिखाई दे रहा है। हालांकि गलती का अहसास होने के बाद प्रियंका ने अपने ट्विटर अकाउंट से यह ट्वीट हटा दिया है।

बताया जा रहा है कि उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के चाचा जेल में बंद हैं। चाचा से मिलने के लिए पीड़िता, उसकी चाची और वकील महेंद्र सिंह रायबरेली जेल जा रहे थे। इसी दौरान एक ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी।