एनआरसी

इससे पहले मई महीने में मनोज तिवारी ने कहा था कि रोहिंग्या घुसपैठियों के हमले से दिल्ली में लोग लगातार डर के साए में जी रहे हैं, इसलिए यहां भी नैशनल रजिस्ट्रर ऑफ सिटिजंस कानून लागू होना चाहिए, ताकि लोग चैन से रह सकें।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को एनआरसी की अंतिम सूची प्रकाशित कर दी है। इसे आप nrcassam.nic.in पर क्लिक करके देख सकते हैं।

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने शुक्रवार को कहा कि शनिवार को प्रकाशित होने जा रही अंतिम राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) से जो लोग छूट गये हैं उनकी चिंताओं पर राज्य सरकार ध्यान देगी।

नई दिल्ली। असम इस समय हाई अलर्ट पर है। 31 अगस्त को एनआरसी की लिस्ट आ रही है। नेशनल सिटीजन...

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को आदेश दिया कि असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) में प्रकाशन के लिए एकत्र किए गए आंकड़ों को आधार डेटा की तर्ज पर सुरक्षित रखा जाएगा।

इससे पहले, प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने आम चुनाव के दौरान एनआरसी के काम को स्थगित करने का अनुरोध करते हुए दायर की गई याचिका को लेकर केंद्र और गृह मंत्रालय की आलोचना की थी। 

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज केंद्र सरकार से उस अर्जी पर जवाब तलब किया जिसमें अवैध प्रवासियों की पहचान...

नई दिल्ली। एनआरसी को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का साफ कहना है कि देश में एक भी घुसपैठिए को...

नई दिल्ली। असम के एनआरसी का मुद्दा अभी भी गरम है। 40 लाख लोगों के वहां अवैध रूप से रहने...