एफ-16

अमेरिकी विदेश विभाग ने ताइवान के एफ-16 पायलटों और मेंटनेंस क्रू के लिए अमेरिका में 50 करोड़ डॉलर के प्रशिक्षण कार्यक्रम को नवीनीकृत करने के लिए ताइवान के साथ संभावित समझौते को मंजूरी दे दी है।

एक अमेरिकी समाचार प्रकाशन ने अमेरिकी सैन्य अधिकारियों के हवाले से कहा है कि फरवरी में हुई हवाई झड़प में पाकिस्तानी एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने का भारत का दावा गलत है।

अमेरिकी विदेश विभाग के उप प्रवक्‍ता प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने कहा है कि पाकिस्तान द्वारा भारत के खिलाफ एफ-16 विमानों और एमराम मिसाइल इस्तेमाल किए जाने के मामले को बहुत करीब से देख रहा है।

भारत ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों के इस्तेमाल के साक्ष्य अमेरिका को सौंप दिये है जिससे पाक की मुश्‍किलें और बढ़ गई हैं। पाकिस्तान ने बीती 27 फरवरी को भारत के सैन्य प्रतिष्ठानों हमले की कोशिश करके अपने लिए मुसीबत पाल ली है।