एशेज सीरीज

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली एशेज सीरीज में खेली जा रही क्रिकेट से काफी ज्यादा प्रभावित हैं। गांगुली ने कहा है कि आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही एशेज ने टेस्ट क्रिकेट को जिंदा रखा है।

मोर्गन को विश्वकप में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के दौरान चोट लग गई थी और फिर इसके बाद उन्हें मैदान छोड़कर बाहर जाना पड़ा था। मोर्गन शुक्रवार को लॉर्ड्स मैदान में मौजूद थे, जहां इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच एशेज सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच जारी है।

आर्चर ने कहा, "मैंने सफेद गेंद से जितनी क्रिकेट खेली है उससे ज्यादा लाल गेंद से खेली है। यह मेरा पसंदीदा प्रारुप है। लाल गेंद से खेली जाने वाली क्रिकेट टीवी पर ज्यादा दिखाई नहीं जाती इसलिए लोगों को पता नहीं है। स्कोरकार्ड को देखकर आपको असल कहानी पता नहीं चलती कि गेम किस तरह से आगे बढ़ा। जब मैंने ससेक्स के लिए खेलना शुरू किया था तब मैंने सबसे पहले इसी प्रारुप में शुरू किया था।"

स्मिथ ने मैच की दोनों पारियों में शतक जमाया। उन्होंने पहली पारी में 144 और दूसरी पारी में 142 रन बनाए। पैन ने मैच के बाद कहा, "उनके बारे में कहने के लिए मेरे पास शब्द नहीं है। शायद मैंने अब तक का सबसे शानदार प्रदर्शन देखा है।"

लारा ने यह भी भविष्यवाणी की कि इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट पांच मैचों की इस सीरीज में सबसे अधिक रन बनाएंगे और तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स सबसे अधिक विकेट लेंगे।

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरुआत एक अगस्त से आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही एशेज सीरीज से हो रही है। क्लार्क को लगता है कि यह टेस्ट चैम्पियनशिप टेस्ट क्रिकेट में एक नई जान फूंकेगा, जिसकी जरूरत टेस्ट क्रिकेट को थी।