एसपीजी सुरक्षा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को लोकसभा को सूचित किया कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 2015 से स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) के मानकों का 1,892 बार उल्लंघन किया।

केंद्र की मोदी सरकार ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लेते हुए गांधी परिवार से एसपीजी (स्पेशल प्रोटेक्शन फोर्स) सुरक्षा हटाने का फैसला लिया है। यानी अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी सुरक्षा की जगह सीआरपीएफ की जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी।

देश में सबसे उच्चतम स्तर की सुरक्षा है एसपीजी है जो अब सिर्फ देश के प्रधानमंत्री को मिलेगी। विशेष सुरक्षा दल का गठन साल 1988 में किया गया था और इसमें देश के जांबाज जवानों को शामिल किया जाता है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर राहुल गांधी को लगता है कि आतंकवाद और देश की सुरक्षा कोई मुद्दा नहीं है तो वो एसपीजी सुरक्षा छोड़ क्यों नहीं देते।

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के परिवार ने नजीर पेश करते हुए सरकारी सुविधाएं त्यागने का फैसला लिया...