ओडिशा

उच्च शिक्षा मंत्री अरुण कुमार साहू ने बताया कि आगामी शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालयों में एक सामान्य पाठ्यक्रम शुरू किया जाएगा। मंत्री ने गुरुवार को यहां सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ बैठक की। साहू ने कहा, "फिलहाल, अलग-अलग विश्वविद्यालयों में अलग-अलग पाठ्यक्रम पढ़ाया जा रहा है।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुबई में बंधक बनाए गए 10 ओडिशा निवासियों की रिहाई के लिए विदेश मंत्री एस.जयशंकर को लेटर लिखा है। उन्होंने जयशंकर से अपील की है कि वह व्यक्तिगत स्तर पर मामले में हस्तक्षेप करें और उनकी रिहाई सुनिश्चित कराएं।

लगातार पांचवीं बार ओडिशा के CM बने नवीन पटनायक, देखिए तस्वीरों में

भुवनेश्वर के एग्जिबिशन ग्राउंड में शपथग्रहण समारोह के दौरान मशहूर लेखिका और पटनायक की बहन गीता मेहता भी मौजूद रहीं। नवीन पटनायक के साथ उनके 20 मंत्रियों ने भी शपथ ली।

सूचना और जनसंपर्क सचिव संजय कुमार सिंह ने कहा कि प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में स्कूल और जन शिक्षा विभाग ने चक्रवात के कारण 417.83 करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया है।

इस बीच, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को घोषणा की कि जिन परिवारों के मकान तूफान के कारण पूरी तरह या पर्याप्त रूप से क्षतिग्रस्त हो गए हैं, उनके लिए स्थायी मकानों की मंजूरी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मकानों के नुकसान के आकलन का काम 15 मई से शुरू होगा और एक सप्ताह के अंदर पूरा हो जाएगा।

ओडिशा में फानी चक्रवात के दौरान मरने वालों की संख्या 41 हो गई है। इसके साथ ही भीषण गर्मी में बिजली की आपूर्ति न होने से लोगों की हालत और भी दयनीय हो गई है। राज्य सूचना व जनसंपर्क सचिव एस. के सिंह ने मीडिया को बताया कि चक्रवात में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 41 हो गई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि स्पीडब्रेकर दीदी ने चक्रवात पर भी राजनीति करने की कोशिश की। फानी के बाद मैंने ममता दीदी से फोन पर बात करने की कोशिश की, लेकिन दीदी का अहंकार इतना ज्यादा है कि उन्होंने मुझसे बात नहीं की। मैं इंतजार कर रहा था कि दीदी मुझे वापस फोन करेगी, लेकिन उन्होंने नहीं किया।

प्रधानमंत्री कार्यालय से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में भी सीएम के साथ हवाई दौरा और अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करना चाहते थे। इसके लिए अधिकारिक तौर पर अधिकारियों के साथ मीटिंग के लिए राज्य सरकार को पत्र भी लिखा गया था, लेकिन राज्य सरकार ने अधिकारियों के चुनाव में व्यस्त होने की बात कहकर मीटिंग कराने से मना कर दिया।

ओडिशा में शुक्रवार को प्रवेश कर तबाही मचाने वाले शक्तिशाली चक्रवाती तूफान फानी के इसके कुछ घंटों बाद मध्यरात्रि में पश्चिम बंगाल में प्रवेश करने पर कई पेड़ उखड़ते चले गए।