कड़कड़डूमा कोर्ट

Delhi: दिल्‍ली पुलिस (Delhi police) का दावा है कि ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) ने पूछताछ में बताया, 'मेरे जानकार खालिद सैफी ने कहा कि तुम्‍हारे पास राजनीतिक पावर और पैसा दोनों है, जिसका इस्तेमाल हिंदुओं के खिलाफ और कौम के लिए करेंगे। मैं इसके लिए हमेशा तैयार रहूंगा। कश्मीर में अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद खालिद सैफी मेरे पास आया। उसने कहा कि इस बार अब हम चुप नहीं बैठेंगे। इसी बीच राम मंदिर के फैसले के साथ सीएए भी आ गया। अब मुझे लगा कि पानी सिर से ऊपर जा चुका है। अब तो कुछ कदम उठाना पड़ेगा।'

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल (Special Cell) ने बुधवार को कड़कड़डूमा कोर्ट (Karkardooma Court) में फरवरी में हुई हिंसा के मामले में 15 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है।

कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा है कि दिल्ली के दंगों का परिणाम गहरी साजिश नजर आ रही है। कोर्ट ने कहा ऐसा लग रहा है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के क्षेत्र में हुए दंगे संगठित तरीके से करवाया गया है।

सूत्र ने कहा कि वित्तीय जांच एजेंसी की टीमें उत्तर पूर्वी दिल्ली में चार स्थानों और नोएडा में दो स्थानों पर तलाशी ले रही हैं। ईडी की कार्रवाई हुसैन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज करने के लगभग तीन सप्ताह बाद हुई है, जो वर्तमान में न्यायिक हिरासत में है।

25 फरवरी 2020 को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जफराबाद दंगों में हुई फायरिंग में अमन नाम के एक शख्स की मौत हुई थी।मौके से पुलिस को अलग-अलग बोर के 35 कारतूस बरामद हुए थे। इस मामले में पिजरातोड़ ग्रुप की सदस्य नताशा नरवाल और देवांगना कलिता समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। 

आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। कड़कड़डूमा कोर्ट ने ताहिर हुसैन को सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।