कनाडा

इससे पहले कनाडा में गुरुद्वारा गए भारतीय उच्चायुक्त को खालिस्तानियों ने घेर लिया था। जिसके बाद उनको वहां से लौटना पड़ा था। बीते दिनों ये खबर सुर्खियों में आया था कि गुरपतवंत सिंह पन्नू को मारने का प्लान भारतीय एजेंसियों ने बनाया था और अमेरिका के हस्तक्षेप के कारण इसे अंजाम तक नहीं पहुंचाया जा सका।

कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने मंगलवार को ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत में मीडिया से बात करते हुए गाजा पर इजरायल के हमले की आलोचना की थी। ट्रूडो ने कहा था कि इजरायल को हमास के खिलाफ अपनी रक्षा करने का पूरा अधिकार है, लेकिन वहां महिलाओं और बच्चों की हत्या बंद होनी चाहिए।

गुरपतवंत सिंह पन्नू ने इससे पहले वीडियो जारी कर 19 नवंबर को सिखों से एयर इंडिया की फ्लाइट में सफर न करने को कहा था। उसने कहा था कि एयर इंडिया की फ्लाइट्स को खतरा है। पन्नू की इस धमकी के बारे में कनाडा और अमेरिका से भारत ने कहा था, लेकिन अब तक कोई भी सख्त कार्रवाई नहीं हुई है।

दिल्ली में शुक्रवार को भारत और अमेरिका के बीच 2+2 बैठक हुई। इस बैठक में भारत की तरफ से विदेश मंत्री एस. जयशंकर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल हुए। अमेरिका की तरफ से वहां के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन और रक्षा मंत्री जस्टिन लॉयड इस अहम बैठक का हिस्सा बने।

ट्रूडो ने पिछले महीने बिना किसी सबूत के भारत पर खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या कराने का आरोप लगाया था। जस्टिन ट्रूडो के इस आरोप की वजह से भारत और कनाडा के बीच रिश्ते खराब हो गए हैं। अब गुरपतवंत सिंह पन्नू का ताजा बयान और ट्रूडो की तारीफ भारत के आरोपों को सही ठहरा रहे है्ं।

पंजाब सरकार को जो खुफिया रिपोर्ट भेजी गई है, उसमें कनाडा के सर्रे शहर का भी जिक्र है। कनाडा के सर्रे शहर में ही खालिस्तानी आतंकी और भारत में मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल हरदीप सिंह निज्जर की इस साल 18 जून को कुछ अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

जयशंकर ने नाम लिए बिना कनाडा के कुछ राजनीतिक दलों पर भी निशाना साधा। जयशंकर ने कहा कि हमारी जो समस्याएं हैं, वो कनाडा की राजनीति के एक खास वर्ग और उससे जुड़ी नीतियों के कारण हैं। कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने सरकार चलाने के लिए खालिस्तान समर्थक पार्टी से हाथ मिलाए हैं।

India Canada Conflict: बीते दिनों जी-20 सम्मेलन में शिरकत करने के बाद स्वदेश लौटे जस्टिन ट्रूडो ने हाउस ऑफ कॉमन्स में अपने संबोधन के हदरीप सिंह निज्जर की हत्या का आरोप भारत पर लगाया था। बता दें कि बीते दिनों सर्रे स्थित गुरुद्वारे के पास खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

India Canada Conflict: बीते दिनों भारतीय विदेश मंत्रालय ने कनाडा के नागरिकों को भारत का वीजा दिए जाने पर रोक भी लगा दी थी। वहीं, बीते दिनों भारतीय विदेश मंत्रालय ने भारत-कनाडा विवाद को ध्यान में रखते हुए दिशानिर्देश भी जारी किए थे, जिसे सभी भारतीय मानने के लिए बाध्य थे। आइए, अब ज़रा आगे जान लेते हैं कि आखिर दोनों देशों के बीच विवाद का पटकथा लिखनी शुरू कहां से हुई ?

कनाडा और भारत के बीच पिछले कुछ दिन से काफी तनातनी है। कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने अपने देश की संसद में बयान दिया था कि उनकी जांच एजेंसियों को लगता है कि सर्रे शहर में हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारत का हाथ है। इसी पर भारत ने कनाडा के खिलाफ सख्त रुख अपनाया है।


Warning: Undefined variable $page_text in /data1/www/hindinewsroompostcom/wp-content/themes/newsroomcmsupdated/archive.php on line 30

Warning: Undefined variable $args in /data1/www/hindinewsroompostcom/wp-content/themes/newsroomcmsupdated/archive.php on line 31