कमलनाथ

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी जॉइन करने पर भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि आज मुझे राजमाता जी की याद आ रही है।

पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के ग्वालियर चंबल संभाग में शानदार प्रदर्शन की वजह ज्योतिरदित्य सिंधिया थे। इसी वजह से भाजपा विधानसभा चुनाव में बहुमत से दूर रह गई।

शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बयान में कहा है कि ज्योतिरादित्य पॉपुलर नेता हैं उन्होंने काफी मेहनत की थी उनका उचित सम्मान होता तो आज कमलनाथ सरकार खतरे में नही आती।

लोकसभा की कार्यवाही जारी है इसमें हिस्सा लेने के लिए राहुल गांधी संसद भवन पहुंचे थे। लेकिन जब मीडिया के लोगों ने उनसे ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने को लेकर सवाल पूछा तो वह इससे बचकर निकल गए।

मध्यप्रदेश में सरकार का समीकरण पलट चुका है। बीजेपी सरकार बनाने के एकदम करीब है। कांग्रेस खेमे में हुई बगावत के साथ ही निर्दलीय विधायक और दूसरी छोटी पार्टियां भी भाजपा के सम्पर्क में हैं।

मध्यप्रदेश में भाजपा ने तुरुप का पत्ता चल दिया है। कांग्रेस की सरकार गिरना तय है। अब तक कुल 22 विधायकों के इस्तीफे हो चुके हैं।

कमलनाथ के नेतृत्व वाली मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में महिलाओं के लिए अलग से शराब की दुकानें खोलने का फैसला लिया है।

मध्यप्रदेश में नसबंदी को लेकर जारी हुए एक फरमान से हड़कंप मच गया है। दरअसल पुरुषों की नसबंदी के घटते आंकड़ों को लेकर एनआरएचएम बेहद चिंतित है। मध्यप्रदेश एनआरएचएम ने इस सिलसिले में सभी जिलों को सर्कुलर जारी किया है।

कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अतिथि शिक्षकों का समर्थन किए जाने और उनके साथ सड़क पर उतरने का बयान दिए जाने और मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा तल्ख प्रतिक्रिया देने के बाद कांग्रेस में तकरार बढ़ गई है।

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच चल रही खींचतान अब मुखर होकर सामने आ गई है।