किम जोंग उन

उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग उन ने लंबी दूरी की तोपों के फायरिंग अभ्यास का निरीक्षण किया। सरकारी मीडिया ने यह जानकारी दी। इससे एक दिन पहले दक्षिण कोरिया ने कहा था कि प्योंगयांग ने जो परीक्षण किए हैं, वे दो बैलिस्टिक मिसाइलें प्रतीत होती हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जहां पूरी दुनिया इसका इलाज ढूंढने में व्यस्त है वहीं उत्तर कोरिया में वायरस से संक्रमण के डर से पीड़ितों पर ही जुल्म ढाया जा रहा है।

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने सुपर-लार्ज मल्टीपल लॉन्च रॉकेट सिस्टम के परीक्षण का निरीक्षण किया। सरकारी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

वाशिंगटन के अनुसार, वार्ता में अमेरिकी प्रतिनिधि ने पिछले साल 12 जून को सिंगापुर में हुए सम्मेलन के बाद के कार्यक्रमों की समीक्षा की, जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन ने कोरियाई प्रायाद्वीप को पूर्ण रूप से परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए प्रतिबद्धता जताई थी।

उत्तर कोरिया ने शनिवार को कहा कि उसने अपने नेता किम जोंग-उन के मार्गदर्शन में शुक्रवार को लॉन्च की गई दो मिसाइलों के रूप में एक 'नए हथियार' का परीक्षण किया है। मीडिया ने इसकी जानकारी दी।

उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तटीय शहर वोनसन के पास से दो अज्ञात प्रक्षेपण किए हैं। दक्षिण कोरिया की समाचार एजेंसी ने दक्षिण कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) के हवाले से यह जानकारी दी।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन को कोरियाई प्रायद्वीप में दोनों देशों को अलग करने वाले असैन्य क्षेत्र (डिमिलिटराइज्डजोन) में इस सप्ताहांत में मुलाकात करने का प्रस्ताव दिया है।

पत्र पढ़ने के बाद, किम ने संतोष के साथ कहा कि "पत्र में बेहद अच्छी बातें लिखी हैं।" केसीएन के हवाले से समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, किम ने कहा कि वह "पत्र में लिखी दिलचस्प बातों पर गंभीरता से विचार करेंगे।"

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, ट्रंप ने व्टाइट हाउस से आयोवा के लिए रवाना होने से पहले प्रेस को बताया कि सोमवार को उन्हें किम की ओर से 'गर्मजोशी से भरपूर' और 'बहुत अच्छा' पत्र मिला है।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन गुरुवार को पहली बार व्लादिवोस्तक में एक-दूसरे से मिले। दोनों नेता यहां शिखर सम्मेलन में वार्ता करेंगे।