कृषि बिल

Farmers Protest: केंद्र के कृषि बिलों के खिलाफ दिल्ली (Delhi) की सीमाओं पर किसानों के आंदोलन का मंगलवार को छठा दिन है। वहीं मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने किसानों को अपना समर्थन दिया है। इसी कड़ी में किसान आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर एक बार फिर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड़ से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर हमला बोला है।

Farmers Protest : रैली(Rally) को कामयाब बनाने के लिए कांग्रेस(Congress) और पंजाब(Punjab) का पूरा प्रशासन मैदान में उतर चुका है। सुरक्षा के लिए प्रदेश भर में 10 हजार पुलिस जवान तैनात किए गए हैं।

Sonia Gandhi : कांग्रेस(Congress) की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी(Sonia Gandhi) ने कहा कि, "किसानों के साथ ही खेत-मज़दूरों और बटाईदारों का भविष्य जुड़ा है। अनाज मंडियों में काम करने वाले छोटे दुकानदारों और मंडी मजदूरों का क्या होगा?

Farmers Bill: प्रधानमंत्री ने विपक्षी पार्टियों, खासकर कांग्रेस (Congress) पर, आरोप लगाया था कि वह इन विधेयकों का विरोध कर किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रही है। पीएम ने इस कृषि बिल (Agriculture Bill) का विरोध कर रहे लोगों को लेकर कहा था कि वह बिचौलियों के साथ किसानों की कमाई को बीच में लूटने वालों का साथ दे रही हैं। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे इस भ्रम में न पड़ें और सतर्क रहें।

farm Bill : पटना में किसान बिल के विरोध में राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेज प्रताप यादव ट्रैक्टर के उपर बैठकर राली कर रहे हैं जिसे तेजस्वी यादव को चला रहे हैं।

Agriculture Bill: कृषि बिल (Agriculture Bill) को लेकर किसान प्रदर्शन (Farmer Protest) कर रहे हैं विपक्षी दलों की तरफ से विरोध जारी है। सरकार के द्वारा पास कराए गए इस बिल को पूंजीपतियों की मदद वाला बताया जा रहा है। कृषि उत्पादों (Agriculture Product) के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को लेकर भी कहा जा रहा है कि सरकार इस खत्म करने के लिए यह बिल लाई है। जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) इस बिल को लेकर स्पष्ट तौर पर कह चुके हैं कि सरकार किसानों को बेहतर भविष्य देने और उनकी आय को दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है। ऐसे में किसी भी हाल में एमएसपी को बंद नहीं किया जाएगा।

Smriti Irani on Farm Bills 2020 : संसद के दोनों सदनों से पारित हो चुके कृषि बिल (Farm Bills) को लेकर विपक्ष लगातार राजनीति करने में लगा हुआ है। वहीं अब कृषि बिल का विरोध करने वाले विपक्षी दलों को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Union Minister Smriti Irani) ने जमकर खरी खोटी सुनाई है।

Farm Bill 2020: केंद्र सरकार की ओर से कृषि सुधार बिल कहे जा रहे तीन में से दो विधेयक रविवार को राज्यसभा में ध्वनि मत से पारित हो गए। दो बिल जो संसद से पास हो चुके हैं उनमें से एक कृषक उपज व्‍यापार और वाणिज्‍य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, 2020, और दूसरा कृषक (सशक्‍तिकरण व संरक्षण) क़ीमत आश्‍वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 है।

Rajya Sabha : उपसभापति(Harivansh) ने लिखा है कि, 'नीचे से कागज को रोल बनाकर आसन पर फेंके गए। आक्रामक व्यवहार, भद्दे और असंसदीय नारे लगाए गए। हृदय और मानस को बेचैन करने वाला लोकतंत्र के चीरहरण का पूरा नजारा रात मेरे मस्तिष्क में छाया रहा। इस कारण मैं सो नहीं सका।

Rajya Sabha: पीएम मोदी(PM Modi) ने कहा कि, "यह हरिवंश (Harivansh)जी की उदारता और महानता को दर्शाता है। लोकतंत्र के लिए इससे खूबसूरत संदेश और क्या हो सकता है। मैं उन्हें इसके लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं।"