केंद्रीय कानून मंत्री

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को कोरोना वायरस ट्रैकिंग एप आरोग्य सेतु को लेकर सवाल उठाए और इसे सरकार की सोची-समझी निगरानी प्रणाली करार दिया।

ऐसा ही एक मामला नागालैंड के दीमापुर से आया है जहां बिहार के पूर्णिया और मधेपुरा जिले के मज़दूर फंसे हुए थे। मदद के लिए उन्होंने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से भावपूर्ण वीडियो के जरिए गुहार लगाई।

रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि पहले हमें चुनाव में हराओ और अपनी सरकार बनाओ। हमें सेक्युलरिज्म का पाठ मत पढ़ाओ।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) झारखंड में समाज के हर तबके से सैकड़ों वादे कर वोटरों को लुभाने की कोशिश कर रही है। इसमें राज्य से नक्सली संकट को खत्म करना भी शामिल है।

नई दिल्ली। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को सोमवार को यहां के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया...