केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय

Covid 19 vaccine: इसके साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan) ने कहा, 'सरकार की योजना 40 करोड़ से 50 करोड़ COVID-19 वैक्सीन खुराक प्राप्त करने और उपयोग करने की है। राज्यों को अक्टूबर के अंत तक प्राथमिकता के तौर पर जनसंख्या समूहों का विवरण भेजने की सलाह दी गई है। उन्‍होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों को अग्रिम पंक्ति में COVID-19 रोग प्रतिरोधक क्षमता उपलब्‍ध कराना सर्वोच्च प्राथमिकता है।

Corona India : हर्ड इम्युनिटी(Herd Immunity) को लेकर आधिकारिक तौर पर सीरो सर्वे की यह रिपोर्ट जल्द जारी होने वाली है। इस साल मई में जारी पहले सीरो सर्वे की रिपोर्ट से कोरोना वायरस(Corona Virus) का राष्ट्रव्यापी प्रसार सिर्फ 0.73 फीसद होने का पता चला था।

Parliament Session: विपक्षी दलों ने सरकार(Central Government) से कहा है कि 18 दिनों का सत्र जोखिम भरा हो सकता है। सूत्रों के अनुसार, सरकार ने इस दिशा में विचार करना आरंभ कर दिया है।

Corona Testing Comparison America and India,गुरुवार को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय(Health Ministry) ने जानकारी देते हुए बताया कि, भारत(India) में पिछले 24 घंटों में 97 हजार 894 नए मामले सामने आए और 1,132 मौतें हुई हैं।

कई राज्यों में पुलिस बिना मास्क पहने गाड़ी चालकों के चालान (Challan) काट रही है। इस सिलसिले में कार में अकेले चलने वाले चालक पर भी कार्रवाई की जा रही है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Union Health Minister Dr. Harshvardhan) ने रविवार को कहा कि अगर लोगों में कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) को लेकर विश्वास की कमी है तो वह सबसे पहले खुद इसे लगवाएंगे।

एक सितंबर से देश में अनलॉक 4 (Unlock 4) की शुरुआत होनेवाली है। ऐसे में सबकी नजर स्कूल और कॉलेज खोलने को लेकर सरकार के फैसले पर है।

कोरोना (CoronaVirus) से ठीक होने वाले लोगों की रफ्तार भी तेजी से बढ़ रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में कोरोना से 57469 लोग ठीक हुए हैं और अबतक कुल 23,38,035 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट (Recovery Rate) बढ़कर 75.26 प्रतिशत हो गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोनावायरस के कारण दुनिया (World) में हो रही मौतों के मुकाबले भारत में कम मौतें हो रही हैं। भारत सबसे कम मृत्य दर (कोरोनावायरस से होने वाली मौतों के संदर्भ में) वाले देशों में से एक है।

इस कैंप को उन्होंंने कोरोना वॉरियर्स और सैनिकों को समर्पित किया। इस दौरान इस दौरान डॉ. हर्षवर्धन(Harshvardhan) के साथ AIIMS के निदेशक डॉ.रणदीप गुलेरिया भी मौजूद रहे।