केजरीवाल

कोरोनावायरस (Coronavirus) की वजह से एक तरफ जहां पूरे देश में स्थिति भयावह बनी हुई है। वहीं पिछले महीने तक ऐसा लगने लगा था कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (NATIONAL CAPITAL DELHI) में कोरोना (Covid-19) से उपजे हालात पर काबू पा लिया गया है।

बता दें कि आदेश कुमार गुप्ता(Adesh Gupta) ने अन्ना हजारे(Anna Hazare) से कहा, आपसे प्रार्थना है कि फिर से दिल्ली आकर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाइए और इस आंदोलन में हमारा साथ दीजिए।

कोरोना वायरस(Corona Virus) के चलते पूरे देश में लॉकडाउन(Lockdown) की घोषणा की गई थी। जिसके बाद से ही दिल्ली में मेट्रो सेवाएं बंद है, ऐसे में जबकि दिल्ली-एनसीआर में धीरे-धीरे ऑफिस, उद्योग सब कुछ खोले जा रहे हैं।

केजरीवाल ने बताया कि जहां पिछले सप्ताह अस्पताल में लगभग 2300 नए मरीज़ थे।वहीं अब अस्पताल में मरीज़ों की संख्या 6200 से 5300 तक कम हुई है।

इस फैसले को लेकर केजरीवाल ने बताया कि, कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल जो स्पेशल सर्जरी करते हैं जो कहीं और नहीं होती उनको करवाने देशभर से कोई भी दिल्ली आ सकता है, उसे रोक नहीं होगी।

देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। नए मामलों की संख्या में तेजी के साथ वृद्धि हो रही है। देश की राजधानी दिल्ली में भी लगातार हजारों की संख्या में कोरोना वायरस के मरीजों की पुष्टि हो रही है।

एक यूजर ने केजरीवाल को टैग करते हुए लिखा है कि, "ऐसे समय जब चीन सिक्किम पर अपना दावा कर रहा हैं, केजरीवाल सरकार का ये विज्ञापन देश के साथ धोखा हैं, गद्दारी हैं

भाजपा सांसद ने कहा, "केजरीवाल सरकार सभी मोर्चो पर विफल रही है। वह राशन वितरित करने में भी विफल रहे। राशन वितरण का जो उन्होंने लिंक जारी किया वह 15 दिनों तक काम नहीं कर रहा था। आज लोगों के पास टोकन नंबर हैं, लेकिन समय से उन्हें राशन नही मिल पा रहा है।"

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि दिल्ली पुलिस ने इस पूरे प्रकरण में आरोप-पत्र दायर करने के लिए तीन साल का समय लिया है। अब दिल्ली सरकार का कानूनी मामलों से संबंधित विभाग इस विषय का अध्ययन कर रहा है।

आम आदमी पार्टी के सूत्रों के मुताबिक केजरीवाल सॉफ्ट राष्ट्रवाद की राह पर हैं। वह दूसरे प्रदेशों में आम आदमी पार्टी के विस्तार के लिए इसी राष्ट्रवाद को हथियार बनाने जा रहे हैं।