कोच पुलेला गोपीचंद

तीन मिनट में देखिए खेल जगत की वो बड़ी खबरें जो हैं सुर्खियों में

भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद का कोई विकल्प नहीं है और इसीलिए वह अभी तक कोच बने हुए हैं। गोपीचंद ने बुधवार को यहां एक कार्यक्रम से इतर कहा, "मैं इसलिए कोचिंग जारी रख रहा हूं और इसे लेकर जुनूनी हूं क्योंकि मेरे पास भी (कोच) नहीं था। मुझे कोई योजना भी दिखाई नहीं देती, यह काफी मुश्किल है।"