कोरोना का असर

मानव संसाधन विकास (HRD) मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को बताया कि पाठयक्रम को 30 प्रतिशत कम करने का फैसला किया गया है।

जर्मनी की लक्जरी कार निर्माता कंपनी बीएमडब्ल्यू महामारी के संकट को देखते हुए अपनी उत्पादन क्षमता को कम करना चाहती है। ऐसे में कंपनी ने कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले अपने 10,000 कर्मचारियों का कॉनट्रैक्ट नहीं बढ़ाएगी।

कोरोनावायरस महामारी के कारण डच फार्मूला वन ग्रां प्री रेस को अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। जांडवूर्ट सर्किट पर आयोजित होने वाली इस रेस को 1985 के बाद पहली बार कैलेंडर में वापसी करनी थी।

भारत में कोविड-19 के प्रकोप के मद्देनजर, जिसने राष्ट्र के सामाजिक, आर्थिक व औद्योगिक क्षेत्र को प्रभावित किया है, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने अपनी तनख्वाह न लेने का फैसला लिया है।

उत्तर प्रदेश में इस समय कोरोना वायरस संक्रमण के 1134 मामले हैं। कुल 1294 मामलों में से 140 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

मुमकिन है कि अगर लॉकडाउन फिर से आगे बढ़ता है तो इस बार किसानों को कुछ राहत मिल सकती है। क्योंकि सोमवार को वैसाखी है और इसी के साथ देश में खेती का सीज़न शुरू हो जाएगा।

सर्वे के अनुसार, कम आय और शिक्षा समूहों वाले लोगों की स्थिति सबसे कमजोर है, जहां 70:30 के हिस्से में अधिकांश लोगों के पास तीन सप्ताह से अधिक समय तक चलने के लिए पर्याप्त संसाधन नहीं हैं।

पूरी दुनिया में अपना लोहा मनवा चुका अमेरिका अब कोरोना के आगे पस्त नजर आ रहा है। हालत ऐसी है कि वहां लोगों को दफनाने के लिए जगह कम पड़ रही है। बता दें कि देश में कोरोना से इतनी मौतें हुई हैं कि लाशों के लिए कब्रिस्‍तान कम पड़ गए।

कुछ का मानना है कि लॉकडाउन में छूट मिलेगी तो वहीं कुछ लोगों का मानना है कि लॉकडाउन अभी और आगे बढ़ेगा। हालांकि केंद्र सरकार की तरफ से इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

जिस तरह लॉकडाउन के बाद भी कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है उसको देखते हुए सरकार लॉकडाउन को हटाने या बनाये रखने पर लगातार मंथन कर रही है।