कोरोना केस

अब देश को पीएम मोदी के संबोधन का इंतजार है। लोगों उम्मीद लगाए हैं, आखिर पीएम मोदी अपने संबोधन में कोरोना और लॉकडाउन को लेकर क्या बोलेंगे। वैसे पीएम मोदी के संबोधन या किसी फैसले से पहले ही कुछ राज्यों ने अपने यहां लॉकडाउन की सीमा को बढ़ा दिया है।

सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री भी मुख्यमंत्रियों की इस बात से सहमत नजर आए और जल्द ही दो सप्ताह तक और लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा हो सकती है। ऐसे में देश के नागरिकों को इस आपात स्थिति से निपटने में सरकार द्वारा उठाए गए कदम के साथ सहयोग करना जरूरी है ताकि इस महामारी से निपटा जा सके।

जिस तरह लॉकडाउन के बाद भी कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है उसको देखते हुए सरकार लॉकडाउन को हटाने या बनाये रखने पर लगातार मंथन कर रही है।

पीएम मोदी ने लोगों से अपील की कि 5 अप्रैल, रविवार को अपने घर के दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोना के संक्रमण की दर विकसित देशों की तुलना में कम होने की जानकारी देते हुए कहा है कि भारत में अभी इस वायरस के संक्रमण का दूसरा दौर ही चल रहा है, यह अभी सामुदायिक संक्रमण के तीसरे चरण में नहीं पहुंचा है।

(डीआईजी) दीपक कुमार ने शनिवार को बताया, "हमीरपुर जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला युवक रमेश ने कुमार मुझे व हमीरपुर पुलिस के ट्विटर हैंडिल को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि वह कोरोनावायरस लॉकडाउन में गुजरात में फंसा है और उसकी बीमार मां घर में अकेली है, राशन भी खत्म हो गया है

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को कोरोनावायरस के बीच स्थानीय अधिकारियों से कहा कि वे राज्य में लॉकडाउन के कारण मुश्किल में फंसे लोगों, खासकर प्रवासी कामगारों को सुविधाएं दें। वे कामगार जो अपने मूल स्थानों पर वापस जाना चाहते हैं

कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए 21 दिन का लॉक डाउन किए जाने के बाद मध्य प्रदेश से बाहर गए लोगों का लौटना मुश्किल हो गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन लोगों के घरों तक लौटने में मदद करने के निर्देश दिए हैं जो प्रदेश से बाहर हैं और घर लौटना चाहते हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने शुक्रवार को कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए किए गए प्रयासों की अधिकारियों के साथ बैठक कर समीक्षा की

राजस्थान में शुक्रवार को कोरोनावायरस के तीन नए मामले सामने आए, जिससे प्रदेश में महामारी से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 46 हो गई

त्रिपुरा के सीएम बिपल्ब देब ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अपने राज्य की जनता को सचेत किया है। बिपल्ब देब ने जनता से जल गमछा इस्तेमाल करने को कहा है जिससे कि कोरोना के संक्रमण से निजात पाई जा सकती है।