कोविड-19

दरअसल, नोएडा सहित एनसीआर के कई वाट्सएप ग्रुप व सोशल साइट पर एक ऑडियो/वीडियो क्लिप को वायरल हो रहा है जिसमें पुलिस का वॉयरलेस सेट पर कुछ निर्देश सुनाई देता दिखाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने मंगलवार को देशवासियों को संबोधित करते हुए देशभर में मध्यरात्रि से अगले 21 दिनों तक पूर्ण लॉकडाउन का एलान किया। पूर्ण लॉकडाउन के मददेनजर गृह मंत्रालय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि लॉक डाउन के दौरान भारत सरकार, इसके स्वायत्त निकायों के दफ्तर समेत अधीनस्थ व सार्वजनिक क्षेत्र के तहत आने वाली कंपनियों के कार्यालय बंद रहेंगे।

उन्होंने कांग्रेस के सभी जिला और शहर अध्यक्षों से कहा है कि वे अपने हर ब्लाक/वार्ड के चुनिंदा साथियों को लेकर एक व्हाट्सएप ग्रुप बना लें ताकि हर ब्लाक/वार्ड की स्थितियों की जानकारी मिलती रहे। किसी व्यक्ति में बीमारी के लक्षण दिखते ही उसे जांच करवाने के लिए प्रेरित करें।

गांगुली ने कोलकाता की कुछ तस्वीरों के साथ ट्वीट करते हुए लिखा, "कभी नहीं सोचा था कि मैं अपने शहर को इस तरह देखूंगा। सुरक्षित रहिए..यह जल्दी बेहतर होगा। आप सभी को मेरा प्यार।"

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए अपने देश के लोगों की लापरवाही को लेकर उन्हें जमकर लताड़ लगाई है। उन्होंने लोगों द्वारा सरकार के निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण अब पूरे देश में लॉकडाउन की मांग की है।

कोरोना पॉजिटिव तबरेज शाहीन बाग के प्रोटेस्ट में भी शामिल होने जाता था। टेस्ट के बाद वो कोरोना संक्रमित पाया गया है। उसके साथ उसकी मां भी कोरोना संक्रमित हो गई है। जानकारी के मुताबकि दोनों मां-बेटे 10 मार्च को दिलशाद गार्डन में सऊदी अरब से आई अपनी बहन से मिलने गए थे। वहीं से दोनों मां बेटे कोरोना की चपेट में आ गए। 

अधिकांश भारतीयों ने कोरोनोवायरस महामारी को मद्देनजर रखते हुए गंभीरता से हाथों की साफ सफाई पर ध्यान दे रहे हैं। लेकिन 75.5 फीसदी लोगों को मास्क पहनने में भरोसा नहीं। 78.5 प्रतिशत भारतीय हैंड सैनिटाइजर का उयोग नहीं कर रहे हैं। जिससे हालात और भी बदतर हो सकती है।

84 प्रतिशत लोगों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार कोरोनोवायरस महामारी को अच्छी तरह से संभाल रही है। आईएएनएस सी-वोटर गैलप इंटरनेशनल एसोसिएशन द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, भारत दुनिया का दूसरे देश है जहां लोगों को यह विश्वास है कि उनकी सरकार पूरी तरह स्थित को काबू करने में सफल रही है।

बता दें कि 17 राज्यों की कुल 55 राज्यसभा सीटें अप्रैल में खाली हो रहीं थीं। इन सीटों पर 26 मार्च को चुनाव के लिए आयोग ने अधिसूचना जारी की थी। हरियाणा, हिमाचल प्रदेश सहित कई राज्यों की अधिकांश सीटों पर निर्विरोध निर्वाचन हु। सिर्फ 18 राज्यसभा सीटों पर मतदान के जरिए चुनाव होना था।

उन्होंने कोरोना के मामले में भारत से उम्मीद भी जताई और कहा, 'भारत ने स्मॉल पॉक्स और पोलियो के उन्मूलन में दुनिया का नेतृत्व किया। भारत में जबरदस्त क्षमता है, सभी देशों में जबरदस्त क्षमता है, जब समुदायों और नागरिक समाजों को जुटाया जाता है।''