कोविड-19

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि एफपीओ (कृषक उत्पादक संगठन) के गठन को बढ़ावा दिया जाए। एफपीओ के गठन के उपरान्त इनका प्रशिक्षण कराते हुए इनकी गतिविधियों को निर्यात के साथ जोड़कर एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए कार्य किया जाए। उन्होंने जनपदों की मैपिंग कराकर उनकी जीडीपी भी तय किये जाने के निर्देश दिये।

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि रैन बसेरों में सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने रैन बसेरों के संचालन में कोविड-19 (Covid-19) से बचाव के लिए सभी प्रबन्ध करने के निर्देश भी दिये।

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि लोगों को कोविड-19 (Covid-19) से बचाव के सम्बन्ध में निरन्तर जागरूक किया जाए। विभिन्न प्रचार माध्यमों सहित पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा जन-जागरूकता का कार्य लगातार जारी रहे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण के संबंध में राज्य सरकार द्वारा की प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। इस संबंध में जनता को प्रामाणिक जानकारी देने के लिए मीडिया ब्रीफिंग निरन्तर की जाए।

Serum Institute: पूनावाला(Adar Poonawala) ने कहा कि, पीएम मोदी(PM Modi) की टीके और उसके उत्पादन को लेकर जानकारी काफी अच्छी है। हम चकित थे कि, जो वो पहले से जानते थे। हमें उनको काफी कम समझाना पड़ा।

Corona Vaccine: जायडस कैडिला(Zydus Cadila) के चेयरमैन पंकज आर पटेल ने पीएम मोदी(PM Modi) की इस यात्रा पर ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने दुनिया के कल्याण की कामना की।

PM Narendra Modi in Ahmedabad: पूरी दुनिया में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। एक बार फिर से पूरी दुनिया में कोरोना का प्रसार तेजी से फैल रहा है। वहीं भारत में भी एक बार फिर कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी देखने को मिल रही है।

पूरी दुनिया में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) ने कहर बरपाया हुआ है। एक बार फिर से पूरी दुनिया में कोरोना का प्रसार तेजी से फैल रहा है। वहीं त्यौहारी मौसम के बाद एक बार फिर से भारत में कोरोना का कहर तेज हो गया है। ऐसे में पूरी पूरे देश को अगर इस वक्त किसी चीज का सबसे ज्यादा इंतजार है तो वो है कोरोना की वैक्सीन। सिर्फ लोगों को ही नहीं बल्कि सरकार भी इसको जल्द से जल्द लाना चाहती है ताकि इस महामारी से होने वाली मौतों पर अंकुश लगाया जा सके।

Coronavirus: इससे पहले, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के निर्देशों के अनुसार प्रदेश में शादी-विवाह, धर्म-कर्म आदि सामूहिक गतिविधियों में लोगों की अधिकतम संख्या तय कर दी गई थी। कंटेनमेंट जोन के बाहर समस्त सामाजिक, शैक्षिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक, राजनीतिक कार्यक्रमों एवं अन्य सामूहिक गतिविधियों में एक समय में किसी भी बन्द स्थान जैसे हॉल या कमरे की निर्धारित क्षमता के 50 प्रतिशत, किंतु अधिकतम 100 व्यक्तियों तक ही मौजूद रह सकते हैं।

Gujarat: सीएम विजय रूपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि राज्य सरकार अस्पतालों में पर्याप्त बेड, दवाओं और अन्य उपकरणों के लिए आवश्यक व्यवस्था करने के अलावा प्रभावित मरीजों को चिकित्सा सुविधा और उपचार का समय पर प्रावधान सुनिश्चित कर रही है ताकि मरीज जल्द से जल्द स्वस्थ होकर अपने घरों में वापस जा सकें।

New Guidelines for Covid-19: गृह मंत्रालय(Home Ministry) द्वारा ने अपने आदेश में कहा है कि स्थानीय जिला, पुलिस और नगरपालिका अधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए ज़िम्मेदार होंगे कि निर्धारित उपायों का कड़ाई से पालन किया जाए।