कोविड-19

मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि कोविड मरीजों का तीन चरणों में इनका इलाज किया जा रहा है। पहले चरण में संदिग्ध मरीजों को क्वारैंटाइन सेंटर में रखा जाता है।

दरअसल बीते 11 अप्रैल को वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान एक दर्जन से अधिक राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन को दो सप्ताह तक बढ़ाने की मांग की थी। जिस पर प्रधानमंत्री मोदी ने विचार करने की बात कही थी। ऐसे में माना जा रहा है कि 21 दिनों के खत्म होते लॉकडाउन को वह बढ़ाने का ऐलान करेंगे।

दिल्ली के स्वास्‍थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि अभी तक राजधानी में 43 इलाकों कों कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा चुका है। वहीं यदि किसी इलाके में तीन या उससे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं तो उसे हॉटस्पॉट घोषित कर सील किया जा रहा है।

दिल्ली के आप विधायक राघव चड्ढा ने बताया कि राजेंद्र नगर में एहतियात के तौर पर सैनिजाइजेशन कराया गया है ताकि कोरोनावायरस न फैले। उन्होंने बताया कि जिस जापानी हाई-टेक मशीन से इलाके को सैनिसटाइज किया गया है उससे शहर के रेड और ऑरेंज जोन को भी सैनिटाइज किया जाएगा।

निजामुद्दीन बस्ती स्थित मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय के मुखिया मौलाना मो. साद कांधलवी को पकड़ने की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। खबरें आ रही हैं कि, क्राइम ब्रांच की टीम मौलाना मो. साद और उनके साथ एफआईआर में नामजद बाकी लोगों से पूछताछ को सोमवार की शाम या फिर मंगलवार को ही मौलाना साद के अड्डे पर धमक सकती है।

अब नेपाल ने भी भारत की तरह कोरोना की लड़ाई में ताली के साथ राष्ट्रीय गान को हथियार बनाया है। नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली ने देशवासियों से सुबह 8 बजे नेपाल के राष्ट्रगान के साथ ताली बजाने की अपील की थी जिसके फलस्वरूप पूरे नेपाल में भारत की तर्ज पर यह अभियान चलाया गया।

मुमकिन है कि अगर लॉकडाउन फिर से आगे बढ़ता है तो इस बार किसानों को कुछ राहत मिल सकती है। क्योंकि सोमवार को वैसाखी है और इसी के साथ देश में खेती का सीज़न शुरू हो जाएगा।

गृह सचिव ने पत्र में कहा, "ये नियम केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशानिर्देश के अनुसारए नियंत्रणए कोरांटीन व निरीक्षण के उपायों से संबंधित क्षेत्रों को छोड़ बाकी हर जगह लागू होंगे।"

तथ्यों ने एक बार फिर साबित कर दिया कि शिथिलता की कीमत काफी महंगी है। वेंटिलेटर, मास्क और अन्य सुरक्षात्मक उपकरणों के भंडारण का अवसर चूक गया।

एआईएमटीसी के अध्यक्ष कुलतारण सिंह अटवाल ने कहा कि कोविड-19 के जोखिम को लेकर ट्रक चालकों और सप्लाई चेन में शामिल लोगों को 50 लाख रुपए की जीवन बीमा का लाभ दिया जाना चाहिए।