कोविशील्ड

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने सीरम इंस्टीट्यूट में आग लगने की घटना के बाद भारत के वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग क्षमता पर निशाना साधा है। ग्लोबल टाइम्स ने यह भी दावा किया है कि चीन में रहने वाले भारतीय चीनी वैक्सीन को तरजीह दे रहे हैं।

Fire at Serum Institute of India: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे (Pune) स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के नए प्लांट के टर्मिनल 1 गेट में आग लग गई है। फिलहाल आग लगने की वजह अभी साफ नहीं हो पाई है।

Uttarakhand gets covishield: अब केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा उत्तराखण्ड(Uttarakhand) को 92500 वैक्सीन और दी गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत(Trivendra Singh Rawat) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ हर्षवर्धन का आभार व्यक्त किया है।

Covishield: इमरान खान(Imran Khan) के विशेष स्वास्थ्य सलाहकार डॉ. फैजल सुल्तान का कहना है कि, "इस वैक्सीन को हम द्विपक्षीय समझौते के तहत तो नहीं पा सकते हैं लेकिन इसके लिए हम वैकल्पिक व्यवस्था के जरिए पा सकते हैं।"

Corona Vaccination: कोरोनावायरस (Coronavirus) महासंकट के बीच देशभर में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है। इस बीच खबर आ रही है कि कोविशील्ड (Covishield) के बाद अब भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की वैक्सीन 'कोवैक्सीन' (Covaxin) की पहली खेप हैदराबाद से दिल्ली पहुंच गई है।

Coronavirus: ब्राजील (Brazil) के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो (jair bolsonaro) ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को एक आग्रह पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से मांग की है कि जल्द से जल्द ब्राजील को AstraZeneca की कोरोना वैक्सीन मुहैया कराई जाए ताकि उनके देश में भी कोरोना टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज किया जा सके।

Corana Vaccine: कोरोना वैक्सीन (corona vaccine) को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी (narendra modi) 11 जनवरी को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल माध्यम से बैठक करेंगे। इस बात की जानकारी पीएमओ के ट्विटर हैंडल के जरिए दी गई। इस दौरान पीएम मोदी कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को लेकर राज्य के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे।

Corona Vaccine: इस नेजल स्प्रे (nasal spray) कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) को भारत में भारत बायोटेक (Bharat Biotech) बना रही है। आपको बता दें कि भारत बायोटेक की एक और कोरोना वैक्सीन को हाल ही में आपातकालीन प्रयोग के लिए मंजूरी मिल चुकी है। इसका नाम कोविशील्ड है।

Corona Vaccine: पूरे देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों की संख्या 1 करोड़ से ज्यादा हो गई है। हालांकि अच्छी बात यह है कि इस सब के बीच 1 करोड़ के करीब लोग इस वायरस को मात दे चुके हैं और स्वस्थ भी हो गए हैं। ऐसे में भारत सरकार की तरफ से दो कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) को आपातकालीन प्रयोग की मंजूरी दी गई है। इसको लेकर देश के कई जिलों में हाल के दिनों में ड्राइ रन भी किया गया।

Corona Vaccine: केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी को हराने के लिए भारत में बनी स्वदेशी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की मंजूरी दे दी। DCGI ने भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन (Covaxin) और सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute of India) की कोविशील्ड (COVISHIELD) को आपात प्रयोग की मंजूरी दी है। हालांकि अब कोरोना वैक्सीन को लेकर कंपनियों के बीच ही आपस में विवाद छिड़ गया है।