गलवान घाटी

गलवान घाटी के बाद चीन और भारत में तनाव जारी है। ऐसे में कहा जा रहा है कि भारत के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने रविवार को चीन के विदेश मंत्री वांग यी से इस मामले पर वीडियो कॉल पर बातचीत की।

बता दें, पूर्वी लद्दाख के विभिन्न स्थानों पर गत सात हफ्ते से भारत और चीन के सेनाओं के बीच तनाव है और यह तनाव और बढ़ गया जब 15 जून को गलवान घाटी में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 सैन्यकर्मी शहीद हो गए।

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों ने 15 जून 2020 को भारतीय सैनिकों पर हमला कर दिया। इस हिंसक झड़प में सीमा की रक्षा करते हुए 20 बहादुर सैनिक शहीद हो गए। इस तारीख को इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए याद रखा जाएगा। इस घटना पर वहां के एक स्थानीय कवि फुंसुक लद्दाखी ने कविता सुनाई है।

गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प को लेकर भारत-चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। जिसके बाद देश में चीन के खिलाफ जमकर विरोध हुआ। देश में चीन के सामान के बहिष्कार की मांग उठने लगी जिसके बाद सरकार ने 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। अब इस विरोध की चिंगारी अमेरिका तक पहुंच गई है।

गलवान घाटी में शहीद हुए 20 सैन्‍यकर्मियों को बड़ा सम्मान मिलेगा। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन यानी DRDO ने एक बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत दिल्‍ली स्थित सरदार वल्‍लभभाई पटेल कोविड अस्‍पताल के अलग-अलग वॉर्डों के नाम गलवान घाटी में शहीद हुए 20 सैन्‍यकर्मियों के नाम पर रखे जाएंगे।

अभिनेता-निर्माता अजय देवगन लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों पर किए गए हमले के आधार पर एक फिल्म बनाने की घोषणा करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

इंदौर में रहने वाले सेना से सेवानिवृत्त पूर्व सैनिकों ने राष्ट्रपति के नाम पत्र लिखकर कहा है कि वे दुश्मन से लोहा लेने के लिए सरहद पर जाने को तैयार हैं।

पीएम मोदी के सिंधु दर्शन पूजा का वीडियो शनिवार को सामने आया। वीडियो में प्रधानमंत्री के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत और सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे भी दिखाई दे रहे हैं।

बता दें कि भारत-चीन सीमा विवाद के बीच मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा को देखते हुए टिकटॉक समेत 59 चीनी एप पर बैन लगा दिया है। 

प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी यहां उस अस्पताल में पहुंचे जहां इन सैनिकों का इलाज चल रहा है। इस दौरान उन्होंने सैनिकों से बात की और उनका मनोबल बढ़ाया।