गांधी परिवार

केंद्र की मोदी सरकार ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लेते हुए गांधी परिवार से एसपीजी (स्पेशल प्रोटेक्शन फोर्स) सुरक्षा हटाने का फैसला लिया है। यानी अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी सुरक्षा की जगह सीआरपीएफ की जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी।

देश में सबसे उच्चतम स्तर की सुरक्षा है एसपीजी है जो अब सिर्फ देश के प्रधानमंत्री को मिलेगी। विशेष सुरक्षा दल का गठन साल 1988 में किया गया था और इसमें देश के जांबाज जवानों को शामिल किया जाता है।

राहुल गांधी के नामांकन करने से ठीक पहले राबर्ट वाड्रा ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। फेसबुक पोस्ट में उन्होंने लिखा कि भारत में बदलाव के लिए आपको शुभकामनाएं, मैं हमेशा आपके साथ खड़ा हूं। वाड्रा ने एक तस्वीर जारी करते हुए लिखा, ''अमेठी की जनता ने हमेशा से ही गांधी परिवार को अपना प्यार और आशीर्वाद दिया है, आगे भी देती रहेगी। इसके लिए अमेठी को बहुत-बहुत धन्यवाद। राहुल गांधी को अमेठी से नामांकन भरने की हार्दिक शुभकामनाएं।''

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और इंटरव्यू दिया है। एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में पीएम मोदी ने गांधी परिवार से लेकर राम मंदिर, कांग्रेस के घोषणापत्र और मुस्लिमों तक खुलकर अपनी बात रखी।

लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के बाद सभी राजनीतिक दल एक दूसरे पर निशाना साधने से नहीं चूक रहे है। वहीं आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्लॉग के जरिए कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने गांधी परिवार पर वंशवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि इससे सबसे अधिक नुकसान संस्थाओं को हुआ है।

नई दिल्ली। सिख दंगों में दोषी पाए जाने के बाद कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को सजा के बाद इस मुद्दे पर...