गैंगरेप

निर्भया के गुनहगार के होश फाख्ता हैं। जैसे-जैसे फांसी का वक्त नजदीक आ रहा है उनकी घबराहट बढ़ती जा रही है। निर्भया का गुनाहगार अक्षय अपशब्द बकने लगा है।

दिल्ली के निर्भया गैंगरेप और हत्या के मामले में अब दोषी पवन गुप्ता ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव याचिका दाखिल की है। बता दें, 3 मार्च को निर्भया के चारों दोषियों को फांसी होनी है।

महिला ने बताया कि वह तीन महीने से थाने के चक्कर लगा रही है, लेकिन किसी ने भी मामले की सुनवाई नहीं की। महिला ने कहा, "घटना के बाद, मैंने 1090 (महिला हेल्प लाइन) पर फोन किया और उन्होंने मुझे 100 डायल करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने मुझे फिर उन्नाव पुलिस में इस मामले की शिकायत करने के लिए कहा।"

रविवार सुबह एक तरफ जहां सुबह 10 बजे अंतिम संस्कार की खबर है, वहीं इस बीच परिजनों ने कहा है कि जब तक सीएम योगी उनसे मिलने नहीं आते तब तक अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

उन्नाव मामले को लेकर योगी सरकार निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, अगर किसी महिला के साथ अत्याचार होगा और 4 महीने तक एफआईआर तक दर्ज नहीं करेंगे, कोई कार्रवाई नहीं करेंगे, अपराधी को दो महीने में बेल पर छोड़ देंगे।

इस सिलसिले में पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। जिला पुलिस के एक अधिकारी ने थाना वसंत कुंज में इस सिलसिले में केस दर्ज किये जाने की पुष्टि की है।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बरेली से हैरान और शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां 16 साल...

चंडीगढ़। बोर्ड टॉपर के साथ सामूहिक दुष्कर्म में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी में विफल रहने की वजह से हरियाणा सरकार...

नई दिल्ली। देश में बच्चियों के खिलाफ दुष्कर्म के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। हरियाणा में महिलाओं के प्रति...