गोकुलपुरी

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में हुए दंगों को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक 22 फरवरी को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे लोग इकट्ठा हुए थे। उसके पास ये जानकारी थी ये लोग हिंसा कर सकते हैं।

याचिकाकर्ता हिंदूसेना ने दिल्ली पुलिस को एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी व पार्टी विधायक वारिस पठान और अकबरुद्दीन ओवैसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए जाने के निर्देश देने का निवेदन किया। याचिका में कहा गया कि इनके भाषणों से दिल्ली में सांप्रदायिक माहौल बढ़ा।

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा, 'मैं लगातार दिल्ली में कई लोगों से संपर्क में हूं। अभी हालात तनावपूर्ण हैं। पुलिस अपनी तमाम कोशिशों के बावजूद माहौल नहीं संभाल पा रही है। ऐसे में अब सेना को बुलाना चाहिए और प्रभावित इलाकों में कर्फ्यू लगा देना चाहिए। मैं इस बारे में केंद्रीय गृह मंत्री को चिट्ठी लिख रहा हूं।'

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा जारी है। देश की राजधानी में बिगड़े हालात को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई। इस मीटिंग में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पुलिस अधिकारी शामिल हुए।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में शुरू हुए दंगों को तुरंत काबू करने के लिए उच्चस्तरीय मंथन शुरू हो गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने तमाम आला हुक्मरानों को इस आपात बैठक में तलब किया है।