गोल्ड

देश में बीते महीने महंगी धातुओं के दाम में गिरावट पर लिवाली बढ़ने से सोने का आयात बढ़कर पिछले पांच महीने के सबसे ऊंचे स्तर पर चला गया। भारत ने नवंबर में 78 टन सोना आयात किया जोकि मई के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है।

केंद्रीय बैंक ने लगातार आठ महीने तक सोने का भंडार बढ़ाया है। केंद्रीय बैंक द्वारा अपनी वेबसाइट पर जारी आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2016 के अक्तूबर के अंत से वर्ष 2018 के नवंबर के अंत तक केंद्रीय बैंक में सोने का भंडार 5 करोड़ 92 लाख 40 हजार औंस पर बरकरार रहा।

सोने का भाव पिछले सत्र में कॉमेक्स पर 1,442.15 डॉलर प्रति औंस तक उछला था। वहीं, चांदी के जुलाई अनुबंध में 0.63 फीसदी की कमजोरी के साथ 15.02 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था।

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के प्रबंध निदेशक (भारत) सोमसुदरम पी.आर. ने कहा, "व्यापारियों और उपभोक्ताओं दोनों में त्योहारी भावना इस साल मजबूत दिख रही है। अनुकूल कीमत विवाह की खरीददारी के लिए एक अच्छा मौसमी मौका है। इससे भारतीय ज्वेलरी की मांग बढ़ती है।"

एसएमसी ग्लोबल सिक्योरिटीज की वंदना भारती ने कहा, "सोने की कीमतों में पहले से ही तेजी बनी हुई है और आगे मजबूती के रुझान से कीमतों को सपोर्ट मिलेगा।"