गोविंद सिंह डोटासरा

Rajasthan: उन्होंने अपने पत्र में यह भी कहा कि सभी विधानसभा सीटों में 66 फीसद से ज्यादा युवाओं की आबादी है और यह कहने में कोई गुरेज नहीं है कि सचिन पायलट युवाओं के बीच आयकन माने जाते हैं, तो ऐसी स्थिति में अगर पार्टी उन्हें प्रचार करने के बाबत भेजती है, तो यह सियासी मोर्चे पर उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं। कांग्रेस एक बार फिर सत्ता में आने के लिए जुटी है। इन सबके बीच पार्टी के प्रचार को लेकर कांग्रेस में टकराव का आलम दिख रहा है। वजह है एक निजी कंपनी को प्रचार का जिम्मा दिया जाना। कंपनी के प्रचार के तरीके से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा खुश नहीं हैं।

राजस्थान में इस साल विधानसभा चुनाव हैं। इन चुनाव में कांग्रेस पुरानी परंपरा तोड़ते हुए लगातार दूसरी बार सरकार बनाने की कोशिश में है, लेकिन अब ये खुलासा हुआ है कि राजस्थान कांग्रेस में तमाम पदों पर सिफारिशी भर्तियां हुई हैं। ये खुलासा हाल ही में पार्टी प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने एक बैठक में कर दिया।

Subhash Maharia: उनके भाजपा को ज्वॉइन करने को लेकर पहले से भी कयास लगाए जा रहे थे। वो 19 मई को अपने समर्थकों के साथ एक बार फिर बीजेपी का दामन थामेंगे।बता दें कि सुभाष महरिया बीजेपी से तीन बार सांसद रह चुके है। उनको आज 10 बजे भाजपा के प्रदेश कार्यालय में शपथ पार्टी ज्वॉइन कराई जाएगी। इस दौरान भाजपा के भी तमाम नेता मौजूद रहेंगे। सुभाष महरिया अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में खाद्य मंत्री का पद संभाल चुके है।

Latest