चंद्रशेखर रावण

Uttar Pradesh: भीम आर्मी (Bhima Army Chief) के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (ChandraShekhar Azad) ने आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश में उनके काफिले पर गोलियां चलाई गई हैं। आजाद ने ट्वीट कर कहा है कि बुलंदशहर चुनाव में प्रत्याशी उतारने से घबराई विपक्षी पार्टियों ने ऐसी कायराना हरकत की है।

Bhim Army: आजाद की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, कांग्रेस(Congress) के प्रवक्ता गौरव वल्लभ(Gaurav Vallabh) ने कहा, 'मेरा मानना ​​है कि गांधीवादी दर्शन से रास्ता तय करना है। अहिंसा ही आपको अन्याय के खिलाफ लड़ाई जीतने में मदद करेगी।'

Hathras scandal: एक साथ हाथरस (Hathras) मामले में कई ऑडियो (Audio) और वीडियो क्लिप (Video Clip) वायरल हो गए हैं जिसने इस पूरे मामले से पर्दा उठा दिया है। ऐसे में हाथरस केस (Hathras Case) की लीक हुई ऑडियो बातचीत से पता चलता है कि राज्य में भाजपा (BJP) सरकार की छवि खराब करने के लिए राजनेता और मीडिया इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रहे हैं।

Hathras scandal: योगी सरकार (Yogi Adityanath) ने एक्शन में आकर इलाके के एसपी और डीएसपी को निलंबित कर दिया। योगी आदित्यनाथ की तरफ से स्पष्ट रूप से यह कह दिया गया है कि इय मामले में दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी ताकि इस तरह की वारदात को अंजाम देने वालों को एक सबक मिले।

15 जनवरी को सीलमपुर(Silampur) में हुए प्रदर्शन के बारे में फातिमा ने पुलिस के सामने खुलासा करते हुए कहा, "योजना के अनुसार भीड़ बढ़ने लगी थी। उमर खालिद(Umar Khalid), चंद्रशेखर रावण(Chandra Shekhar Ravan), योगेंद्र यादव, सीताराम येचुरी(Sitaram Yechury) और वकील महमूद प्राचा सहित बड़े नेता और वकील इस भीड़ को भड़काने के लिए आगे आने लगे।"

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ शुक्रवार को दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर प्रदर्शनकारियों का जमावड़ा लगा हुआ है। इस मौके पर भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद भी वहां मौजूद हैं।

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में मंगलवार को पुलिस ने आचार संहिता उल्लंघन के मामले में हिरासत में ले लिया है। तबीयत खराब होने के कारण बाद में उन्हें इलाज के लिए मेरठ भेज दिया गया।