चिदंबरम

सोनिया गांधी ने अपने कार्यकर्ताओं और समिति के सदस्यों से बात करते हुए कहा कि हम आज एक अभूतपूर्व स्वास्थ्य और मानवीय संकट के बीच मिल रहे हैं। आज पूरे देश के और हमारे सामने कोरोना जैसी भयावह चुनौती है लेकिन इसे दूर करने के लिए हमें दृढ संकल्पित होना चाहिए। 

पी चिदंबरम को सीबीआई के केस में जमानत मिली है, यह जमानत एक लाख रुपये के मुचकले पर मिली है। फिलहाल जमानत मिलने के बाद भी चिदंबरम को ईडी द्वारा दर्ज किए गए मामले में 24 अक्टूबर तक हिरासत के तहत जेल में ही रहना होगा।

तिहाड़ जेल में बंद चिदंबरम की जमानत याचिका खारिज होने के बाद उन्हें जेल में ही रहना होगा। गौरतलब है कि चिदंबरम को सीबीआई ने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था।

देश के पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के सीनियर नेता पी. चिदंबरम को अदालत से तगड़ा झटका लगा है। अदालत ने उनकी न्यायिक हिरासत को 3 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। जिसके बाद अब उन्हें 14 दिन और जेल में रहना होगा।

जेल सूत्रों ने बताया कि चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल भी सोमवार को मुवक्किल से मिलने तिहाड़ जेल पहुंचे। उनके साथ एक-दो वकील और भी थे। वकीलों से चिदंबरम की आधा घंटे की मुलाकात हुई।

जिस दिन भी कोई विचाराधीन कैदी जेल की देहरी के भीतर पहुंचता है। उसी दिन या फिर अगले दिन उसकी मर्जी से या जितनी उसकी सामथ्र्य-इच्छा हो, उसके हिसाब से वक्त जरूरत के लिए उसके 'प्रिजनर वैलफेयर फंड' में कुछ रुपये परिजनों से जमा करा लिये जाते हैं।

खबर है कि उन्हें 7 नंबर जेल में रखा जाएगा। इस जेल में आर्थिक अपराध से जुड़े लोगों को रखा जाता है, चिदंबरम के बेटे कार्ति को भी जेल नंबर 7 में रखा गया था।

अदालत ने वृहस्पतिवार को ही चिदंबरम को पांच दिन (26 अगस्त तक) के लिए सीबीआई रिमांड पर भेजा है। चिदंबरम तिहाड़ जेल कब भेजे जायेंगे यह 26 अगस्त को अदालत के आदेश पर निर्भर करेगा।

राजीन गांधी को याद करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि, "राजीव जी की याद आज भी हमारे दिल में है। वो भारत को मजबूत, सुरक्षित और आत्मनिर्भर बनाने की बात करते थे।

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के इस दावे पर कि 2014 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सत्ता में...