जनसंख्या नियंत्रण कानून

उन्होंने कहा है कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाना ही एकमात्र विकल्प है। जनसंख्या विस्फोट को तत्काल प्रभाव से रोकना जरूरी है।

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने की मांग को लेकर मनु गौड़ के प्रयासों का ही नतीजा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लालकिले के प्राचीर से इस गंभीर मुद्दे पर एक बार जनता से विचार करने का आग्रह करते हैं।

सरकार के गठन के बाद जिस तरह से ताबड़तोड़ फैसले लिए गए उसने एक साल के मोदी सरकार 2.0 के कार्यकाल में नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का ग्राफ और ऊंचा कर दिया।

देश भर में नागरिकता कानून पर मचे बवाल के बीच सरकार ने जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने पर विचार शुरू कर दिया है। इस सिलसिले में नीति आयोग शुक्रवार को जनसंख्या नियंत्रण पर एक महत्वपूर्ण बैठक कर रहा है।

अनुच्छेद 370, राम मंदिर और नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) जैसे अहम पड़ाव पार कर चुकी मोदी सरकार का अगला कदम हो सकता है जनसंख्या नियंत्रण कानून और समान नागरिक संहिता (कॉमन सिविल कोड) यानी सीसीसी को लागू करना।

गिरिराज सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की ये दूसरी पारी उनके राजनीतिक जीवन की आखिरी पारी होगी। अब अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है तो अब गिरिराज सिंह ने नया ऐलान किया है