जम्मू कश्मीर

PM Modi Jammu: पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में हुई प्रगति का भी जिक्र किया. उन्होंने जम्मू-कश्मीर को शिक्षा और कौशल विकास के एक महत्वपूर्ण केंद्र में बदलने पर प्रकाश डालते हुए क्षेत्र के भीतर व्यावसायिक शैक्षिक अवसर प्रदान करने के महत्व पर जोर दिया। अपनी पिछली यात्राओं के दौरान किए गए वादों का जिक्र करते हुए, पीएम मोदी ने प्रतिबद्धताओं को पूरा करने पर संतोष व्यक्त किया, विशेष रूप से जम्मू में आईआईटी और आईआईएम जैसे प्रतिष्ठित संस्थान स्थापित करने की अपनी प्रतिज्ञा को याद किया।

Farooq Abdullah and Kapil Sibal Viral Video: कपिल सिब्बल कहते है कि यहां तो लोग कुर्सी छोड़ने को तैयार नहीं। फारूक अब्दुल्ला बोलते है कि सवाल ही नहीं...जैसे कुर्सी ही सबकुछ है..जब उसी दरिया को पार करने के लिए गए तो वो नाव वाला क्या कहता है। इन्होंने (राम) कहा मेरे पास कुछ नहीं है... माता सीता ने कहा मेरे पास कंगन है हमें पार ले चलो।

Tehreek-e-Hurriyat, J&K: पीएम के तहत नरेंद्र मोदी आतंकवाद के खिलाफ जी की जीरो-टॉलरेंस नीति के तहत, भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल पाए जाने वाले किसी भी व्यक्ति या संगठन को तुरंत विफल कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि इससे पहले मुस्लिम लीग(जम्मू-कश्मीर )संगठन को भी केंद्र की मोदी सरकार द्वारा प्रतिबंधित कर दिया गया था।

Terrorist Attack On Army Truck In Poonch: जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में सेना की गाड़ी पर आतंकियों ने हमला किया है, जिसकी जद में आकर तीन जवान वीरगति को प्राप्त हो गए, तो वहीं दूसरी दो जवान घायल हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

Supreme Court On Article 370: सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि संसद का 5 अगस्त 2019 का फैसला बरकरार रहेगा। जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। जज ने फैसले में कहा कि 370 हटाने का फैसला संवैधानिक था।

Jammu Kashmir Article 370: 5 अगस्त 2019 में संसद ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रभाव को खत्म कर दिया था साथ ही राज्य को 2 अलग-अलग हिस्सों जम्मू कश्मीर और लद्दाख में बांट दिया गया और दोनों ही राज्यों को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया था। संसद के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में 23 याचिका दायर की गई थी। सभी याचिकाओं को बारी-बारी सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने सितंबर के महीने में इसपर फैसला सुरक्षित रख लिया था और इस मामले पर फैसला सुनाने के लिए आज की तारीख मुकर्रर की थी।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के राजौरी मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए शुभम गुप्ता के परिजनों को 50 लाख रुपए का...

Jammu-Kashmir: बताया जा रहा है कि इस वारदात को अंजाम देने के बाद आतंकी मौके से फरार हो गए। मौके जम्मू पुलिस और सुरक्षाबल पहुंच गए है। सुरक्षाबलों ने आस-पास के इलाके को घेर लिया है और लगातार इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

Ghulam Nabi Azad: पिछले साल कांग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद गुलाम नबी आजाद ने डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव आजाद पार्टी (DPAP) का गठन किया था. उन्हें आलोचना का सामना करना पड़ रहा है, कुछ लोगों का कहना है कि वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आदेश पर जम्मू-कश्मीर की राजनीति में लौट आए हैं।

Rajouri: कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कुछ आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे हैं, लेकिन पीठ पर टांगने वाला बैग वहीं छोड़ गए हैं, जिसे सुरक्षाबलों ने अपने कब्जे में ले लिया है, जिनमें कुछ कपड़े और खाद्य सामाग्री बरामद की गई है।