झारखंड चुनाव

झारखंड चुनाव में मोदी की अगुआई में भाजपा ने जहां राष्ट्रीय मुद्दों को हथियार बनाया, वहीं सोरेन ने स्थानीय मुद्दे चुने।

चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमले किए। प्रियंका गांधी ने कहा कि जल-जंगल-जमीन आपकी है. आप सिद्हो कान्‍हो की धरती से हैं। ये चुनाव झारखंड के अस्तित्‍व बचाने का चुनाव है। बीजेपी की सरकार आपकी आत्‍मा पर हमला कर रही है। भाजपा अंधी हो चुकी है, आदिवासी संस्‍कृति पर वार कर वह आपको बर्बाद करना चाहती है।

प्रियंका ने पीएम मोदी को चुनौती देते हुए कहा कि, आप देश के प्रधानमंत्री हैं या बंटवारे के प्रधानमंत्री हैं, इस पर बोलिए। प्रियंका ने कहा कि, "प्रधानमंत्री को चुनौती देती हूं कि सीएनटी एसपीटी पर बोलिए, दुष्‍कर्म पर बोलिए, गायब रोजगार पर बोलिए।"

अमित शाह के बयान को गलत तरीके से पेश किया गया जिससे लोगों को लगे भाजपा कमजोर हो रही है। लेकिन अब जो सच्चाई सामने आई है उसे देखकर विरोधियों को पता चल जाएगा कि आखिरकार अमित शाह ने क्या कहा था।

झारंखड के डाल्टनगंज में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भगवान राम की जन्मभूमि का विवाद कांग्रेस ने लटकाया था। अगर वे चाहते तो इसका समाधान बहुत पहले मिल जाता लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

नीतीश ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से बगावत कर मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ बतौर निर्दलीय चुनाव में उतरे सरयू राय के बहाने एकबार फिर भाजपा को न केवल आईना दिखाया है, बल्कि सरयू राय की दोस्ती रखते हुए उनको पुचकारा है।

अमित शाह झारखंड के लातेहार में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर हमला किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि अयोध्या में जहां श्रीराम का जन्म हुआ था, वहीं अब भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा

झारखंड विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से टिकट नहीं मिलने के बाद मंत्री सरयू राय ने रविवार को कहा कि वह जमशेदपुर ईस्ट से मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लडेंगे।

पार्टी की ओर से शनिवार रात दो उम्मीदवारों की सूची जारी की गई जिसमें वल्लभ का नाम प्रमुख है जिन्हें जमशेदपुर-पूर्व से उम्मीदवार बनाया गया है। इस विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री रघुबर दास वर्तमान में विधायक हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार में पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव झारखंड में सह चुनाव प्रभारी बनाए जाने के बाद से ही झारखंड पहुंचकर अपनी टीम के लिए फील्डिंग सजाने में जुट गए हैं।