ट्यूमर

प्रियंका ने तत्काल पार्टी के नेताओं राजीव शुक्ला, हार्दिक पटेल और मोहम्मद अजहरुद्दीन से संपर्क किया और उन्हें बच्ची को दिल्ली स्थित एम्स में ले जाने का बंदोबस्त करने का निर्देश दिया।