डोनाल्ड ट्रंप

इस कार्यक्रम में करीब 50 हजार लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। इसके साथ ही पीएम मोदी अमेरिका के साथ कई सारे द्विपक्षिय मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे जिससे दोनों देशों के संबंधों में और मजबूती आ सके। 

जहां एक तरफ पीएम मोदी के इस कार्यक्रम की चर्चा पूरी दुनिया में है, तो वहीं अपनी कंगाली पर आ चुका पाकिस्तान इस कार्यक्रम का विरोध करने के लिए सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर चंदा मांग रहा है।

पिछले महीने इस्लामाबाद के अधिकारियों से बचकर अमेरिका पहुंची पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता गुलालाई इस्माइल ने अमेरिका से राजनीतिक शरण देने का अनुरोध किया है।

प्रधानमंत्री मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के पहले अमेरिकी दौरे में कई नए रिकार्ड बनाने जा रहे हैं। वे अपने न्यूयार्क दौरे में करीब 20 द्विपक्षीय वार्ताएं करेंगे। इनमें कई देशों के राष्ट्र प्रमुख शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार देर शाम को अमेरिका दौरे पर रवाना होंगे। रविवार रात को पीएम मोदी को टेक्सास के ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम को संबोधित करना है।

डेमोक्रेट्स पार्टी की नेता और अमेरिकी राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ रहीं भारतीय-अमेरिकी मूल की तुलसी गबार्ड प्रधानमंत्री मोदी के हाउडी मोदी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगी, हालांकि उन्होंने एक वीडियो जारी कर पीएम का स्वागत किया है और कार्यक्रम में शामिल ना होने पर खेद जताया है।

प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में प्रवासी भारतीय को संबोधित करेंगे जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी उनके साथ मंच साझा कर सकते हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि इजरायल के साथ आपसी रक्षा समझौते पर विचार चल रहा है, जिससे अमेरिका और मध्य एशियाई देश के बीच रक्षा संबंध और मजबूत होंगे।

लादेन की मौत के बाद उसके बेटे हमजा ने कई बार अमेरिका आतंकवादी हमले की धमकी दी थी। अब अमेरिका ने हमजा को भी मार गिराया है।

पीएम मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में पूरे विश्व को अपनी विदेश नीति का मुरीद कर दिया। इस दौरान दुनिया की तमाम महाशक्तियों ने मोदी का लोहा मान लिया।