तीन तलाक

PM Narendra Modi 70th Birthday: नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने वह कर दिखाया जो न तो उनसे पहले कोई कर पाया और ना उनके बाद कोई कर पाएगा, इसके बारे में कोई भी भविष्यवाणी (Prediction) नहीं कर सकता है।

अखंड भारत (India) भारतवासियों के लिए केवल शब्द नहीं है। यह हमारी श्रद्धा, भाव, देशभक्ति व संकल्पों का अनवरत प्रयास है जिसे प्रत्येक देशभक्त जीवंत महसूस करता है।

पीएम के संसदीय क्षेत्र में शुक्रवार को मुस्लिम महिला मंच सहित कई मुस्लिम महिलाओं ने पीएम के द्वारा तीन तलाक को खत्‍म करने के लिए एक वर्ष होने पर अपनी शुभकामनाएं भी दीं।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि माना जाता है कि महिलाओं की लड़ाई महिलाएं लड़ती हैं लेकिन हमारे देश का इतिहास रहा है, सभ्यता और परंपरा रही है कि जब तक कोई कुरीति समाज के सामने प्रस्तुत होती है, तो भाई भी अपना योगदान देने से चूकते नहीं।

मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि पिछले एक साल के दौरान 'तीन तलाक' या 'तिलाके बिद्दत' की घटनाओं में 82 प्रतिशत से ज्यादा की कमी आई है।

सरकार के गठन के बाद जिस तरह से ताबड़तोड़ फैसले लिए गए उसने एक साल के मोदी सरकार 2.0 के कार्यकाल में नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का ग्राफ और ऊंचा कर दिया।

नरेंद्र मोदी 2.0 के गठन के बाद से गरीब, महिला, किसान, युवा, उद्योग और इंफ्रास्ट्रक्चर को सीधा फायदा पहुंचाया जा रहा हैं।

कोरोना के इस संकट काल के बीच भी कराए गए सर्वे की मानें तो पीएम नरेंद्र मोदी के ऊपर 71 प्रतिशत से ज्यादा देश की जनता का भरोसा कायम है।

राष्ट्रपति कोविंद ने अपने अभिभाषण में आर्टिकल 370, तीन तलाक, नागरिकता कानून, राम जन्मभूमि,  श्यामा प्रसाद मुखर्जी, रेल नेटवर्क और जल मंत्रालय का भी जिक्र किया। बता दें कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 1 फरवरी को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी। 

मुख्यमंत्री लखनऊ कैंट विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए भाजपा उम्मीदवार सुरेश तिवारी के समर्थन में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, "देश फतवों से नहीं संविधान से चलेगा। भाजपा ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को सदैव के लिए प्रतिबंधित कर देश में राजनीति के मौलानाकरण को पूरी समाप्त कर दिया है।"