तेल

कानपुर जूता, डिटरजेंट, केमिकल, मशीनरी, होजरी एवं गारमेंट, पान मसाला, खाद्य मसाला, तेल की मैन्यूफैक्चरिंग में उत्तर भारत का बड़ा केंद्र है। कपड़ा, मसाला, किराना, गल्ला, लोहा, टिम्बर के थोक कारोबार का बड़ा हिस्सा कानपुर से चलता है।

पेट्रोल के दाम में लगातार पांच दिनों से जारी वृद्धि पर बुधवार को ब्रेक लग गया और डीजल की कीमत में भी कोई बदलाव नहीं हुआ। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भी नरमी बनी हुई थी। एक दिन पहले मंगलवार को तेल विपणन कंपनियों ने दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम में 10 पैसे जबकि कोलकाता में नौ पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की थी।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, शुक्रवार को दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम बढ़कर क्रमश: 71.39 रुपये, 73.46 रुपये, 77 रुपये और 74.10 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट दर्ज की गई। दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल फिर 48 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है और कोलकाता में पेट्रोल के दाम 47 पैसे जबकि चेन्नई में 50 पैसे प्रति लीटर घट गए हैं।

भारत कच्चे तेल का आयात ब्राजील और मेक्सिको से बढ़ा सकता है, क्योंकि वेनेजुएला पर अमेरिकी प्रतिबंध के चलते वहां से भारत को होने वाले तेल आयात में कमी की पूर्ति करने की जरूरत है।

हमारे धर्म शास्त्रों में शनि ग्रह को अति क्रूर कहा गया है। अशुभ शनि व्यक्ति का जीवन दुखों व असफलताओं...

नई दिल्ली। ईरान पर ट्रंप का लगाया गया बैन 4 नवंबर से प्रभावित होगा। जिसका सीधा मतलब है कि जो...

नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी से आम जनता भले ही परेशान हो, पर मोदी सरकार...