दिल्ली कोरोना

बताया जा रहा है कि बीजेपी(BJP) प्रादेशिक कार्यालय में 17 लोग कोरोना(Corona) पॉज़िटिव हुए हैं। जिसके चलते आज कार्यालय बंद रहेगा और सैनेटाईजेशन का कार्य किया जाएगा।

टेस्टिंग में बढ़ोतरी और पॉजिटिविटी रेट में गिरावट के पीछे तेजी से बढ़ाए गए एंटीजन टेस्ट कारण हैं- जो बहुत भरोसेमंद नहीं माने जाते हैं। दिल्ली में पहले एक दिन में 7,000 टेस्टिंग हो रही थी।

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने को लेकर शाह ने कहा कि हमने दिल्ली सरकार को तत्काल 500 ऑक्सीजन सिलेंडर, 440 वेंटिलेटर दिए हैं। एंबुलेंस के लिए दिल्ली सरकार को कहा है कि प्राइवेट कंपनियों के साथ मिलकर आप इनकी जरूरत पूरी कर सकते हैं।

शनिवार को दिल्ली में कोरोना के 57 और रोगियों की मौत के बाद दिल्ली में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1271 हो गई। दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण यहां कोरोना हॉटस्पॉट्स की संख्या भी बढ़ती जा रही है।

दिल्ली में कोरोना के मामलों की बात करें तो दिल्ली के मुख्यमंत्री कार्यालय से दी गई जानकारी के मुताबिक दिल्ली में कोरोना के मामलों की कुल संख्या 36 हजार 824 हो गई है।

दिल्ली में सभी 11 जिले कोरोनावायरस की चपेट में हैं। अब तक कुल 188 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। चिंताजनक बात यह है कि जितने टेस्ट किए जा रहे हैं उनमें पॉजिटिव आने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है।

हाई कोर्ट ने दिल्ली और केंद्र सरकार को कहा था कि शराब की बिक्री के दौरान भीड़ ना हो, यह सुनिश्चित किया जाए। सरकार इस जिम्मेदारी का गंभीरता से पालन करे।

संबंधित मरीज या उसके किसी परिजन के नाम का पानी, बिजली, फोन या गैस कनेक्शन का बिल, संबंधित मरीज के पते पर आया डाक विभाग से प्राप्त कोई डाक, नाबालिग के मामले में उसके अभिभावक के नाम का कोई भी उपर्युक्त कागजात और 7 जून 2020 से पहले बना आधार कार्ड मान्य होगा।

इस फैसले को लेकर केजरीवाल ने बताया कि, कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल जो स्पेशल सर्जरी करते हैं जो कहीं और नहीं होती उनको करवाने देशभर से कोई भी दिल्ली आ सकता है, उसे रोक नहीं होगी।

अभी तक कोरोनावायरस की जांच के लिए कुल 1,60,255 लोगों का टेस्ट किया गया है। इनमें से 12,319 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इन कोरोना पॉजिटिव रोगियों में से 5,897 रोगी अभी तक स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली में फिलहाल 6,214 सक्रिय कोरोना रोगी हैं।