दिल्ली पुलिस

जानकारी के मुताबिक, 'संदिग्धों की धरपकड़ के लिए दिल्ली पुलिस ने 11 टीमें बनाईं हैं। इन टीमों ने अभी तक दस लोगों को पकड़ा है। पकड़े गए इन लोगों से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक कई अन्य जगहों पर भी छापेमारी तेज कर दी गई है।"

अक्सर देखा गया है कि लोगों के मन में पुलिस को लेकर एक अलग ही छवि है। बुरी नहीं तो अच्छी भी नहीं। लेकिन दिल्ली पुलिस का एक मानवीय चेहरा भी सामने आया है।

दिल्ली पुलिस की एक महिला उप निरीक्षक (एसआई) की शुक्रवार रात रोहिणी ईस्ट मेट्रो स्टेशन के निकट गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि एसआई प्रीति अहलावत (26) पटपड़गंज औद्योगिक क्षेत्र पुलिस स्टेशन में तैनात थीं।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया मुश्किल में हैं। पहले सीबीआई ने उनके ओएसडी को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ा। अब दिल्ली की एक कोर्ट ने उनकी ओर से किए गए बस जलाने के विवादित दावे को लेकर पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।

सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम के बैंक खाते में विदेशी फंडिंग के सबूत मिले हैं। इसके तार शाहीन बाग में हो रहे विरोध प्रदर्शन से भी जुड़े हैं।

देशद्रोह के मामले में गिरफ्तार जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) स्टूडेंट शरजील इमाम को लेकर एक और बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम के बैंक खाते में विदेशी फंडिंग के सबूत मिले हैं।

शाहीन बाग में हो रहे नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शनों को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक चौंकाने वाला दावा किया है। उन्होंने कहा है कि शाहीन बाग का लिंक सुसाइड बॉम्बिंग से जुड़ा है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपने बयान में कहा, "केजरीवाल और उसकी पार्टी ने देश को विखंडित करने वाला बयान देने वाले टुकड़े-टुकड़े गैंग को बचा कर रखा है। शरजील इमाम के पक्ष में राजनीतिक पासे फेंके थे, लेकिन जब दिल्ली पुलिस से उसे पकड़ कर तो इनके मंसूबों पर पानी फिर गया फिर इन्होंने आप के कार्यकर्ता से गोली चलवा दी।"

दिल्ली के शाहीन बाग में हो रहे सीएए विरोध प्रदर्शन स्थल से कुछ दूरी पर फायरिंग करनेवाले कपिल गुर्जर की फोन से दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को कुछ तस्वीरें मिली है।

इस घटना पर एआईएमआईएम चीफ और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को अब इस हमलावर को इसके कपड़ों से पहचानना चाहिए।