दिल्ली विधानसभा चुनाव खबर

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी की छठी विधानसभा को भंग कर दिया। चुनाव परिणामों के घोषित होने के बाद से यहां नई विधानसभा का गठन होना है।

हार साफ देखने के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ''जनता ने अपना जनादेश दे दिया। जनादेश कांग्रेस के विरुद्ध भी दिया है। हम कांग्रेस और डीपीसीसी की तरफ से इस जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करते हैं।"

एक प्राइवेट न्यूज चैनल के रिपोर्टर अंकित गुप्ता इसको लेकर अपने ट्वीट में कहते हैं कि, "वैसे Delhi Exit Polls के आने के बाद एक बात थोड़ी अजीब लग रही है कि जिस आम आदमी पार्टी के पक्ष में सारे नतीजे दिख रहे हैं वो अभी भी खुलकर नहीं बोल पा रही

आचार संहिता का उल्लंघन करने में आम आदमी पार्टी नंबर 1 रही, इस चुनावों के दौरान आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए कुल 45 मामले दर्ज किए गए जिनमें सबसे ज्यादा 28 मामले आप के खिलाफ दर्ज हुए, 9 मामले कांग्रेस के खिलाफ, 4 बीजेपी के खिलाफ और 4 अन्य के खिलाफ दर्ज हुए।

दिल्ली चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को आएंगे, और तभी साफ हो पाएगा कि सरकार किसकी बनेगी और किसको कितना वोट शेयर मिला। भाजपा नेताओं की तरफ से भी दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में भाजपा पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है।

सामान्य वर्ग के वोट की बात करें तो, आजतक ऐक्सिस माए इंडिया के एग्जिट पोल के हिसाब से 50 फीसदी लोगों ने आम आदमी पार्टी पर, और 45 फीसदी लोगों ने भाजपा पर विश्वास जताया है।

दिल्ली में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान जारी है। कुछ सीटों पर सुबह से लोगों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं। कुल 70 सीटों के लिए 672 प्रत्याशी मैदान में हैं। दिल्ली में करीब 1.47 करोड़ मतदाता हैं, इनमें करीब 66 लाख महिलाएं हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए अभी वोटिंग हो रही है और नतीजे 11 फरवरी को आने हैं, लेकिन इससे पहले ही कांग्रेसी नेता उदित राज ने ईवीएम का रोना शुरू कर दिया है।

अलका लांबा ने इस झड़प के बाद कहा कि AAP कार्यकर्ता ने उनके बेटे पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। कार्यकर्ता की बात को पुलिस ने भी सुना था।

दिल्ली विधानसभा चुनाव को देखते हुए एक ऐसा वीडियो सामने आया है जिसमें 110 साल की एक वृद्ध महिला अपना वोट डालने के लिए कतार में अपनी बारी का इंतजार कर रही हैं।